स्केलिंग रणनीतियां

सीएडी(CAD)

सीएडी(CAD)

सीएडी शब्द का आविष्कार किसने किया?

कंप्यूटर एडेड ड्राफ्टिंग (सीएडी) और कंप्यूटर एडेड डिजाइन एंड ड्राफ्टिंग (सीएडीडी) शब्दों का भी इस्तेमाल किया जाता है। इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम को डिजाइन करने में इसका उपयोग इलेक्ट्रॉनिक डिजाइन ऑटोमेशन (ईडीए) के रूप में जाना जाता है।

सीएडी को किसने प्रभावित किया?

पार्सन्स और इवान सदरलैंड कंप्यूटर-एडेड डिज़ाइन के तीन प्रमुख व्यक्तिगत नवप्रवर्तक हैं। डिजाइन के लिए कंप्यूटर ग्राफिक्स के विचार पर कई लोग और संस्थान काम कर रहे थे। सीएडी की किसी भी मूलभूत चर्चा में इन नामों का उल्लेख किया जाना चाहिए।

CAD की शुरुआत सबसे पहले किसने और कैसे की थी?

CAD की शुरुआत 1957 में हुई, जब डॉ. पैट्रिक जे. हैनरट्टी ने पहली व्यावसायिक संख्यात्मक-नियंत्रण प्रोग्रामिंग प्रणाली, PRONTO विकसित की। 1960 में, इवान सदरलैंड MIT की लिंकन प्रयोगशाला ने SKETCHPAD बनाया, जिसने कंप्यूटर तकनीकी ड्राइंग के बुनियादी सिद्धांतों और व्यवहार्यता का प्रदर्शन किया।

सीएडी के विपरीत क्या है?

नीच नस्ल के, अनुमान लगाने वाले व्यक्ति के विपरीत। सज्जन। सहायक। संज्ञा।

सीएडी पुलिस के लिए क्या खड़ा है?

कंप्यूटर एडेड डिस्पैच (सीएडी) सिस्टम का उपयोग डिस्पैचर, कॉल-टेकर और 911 ऑपरेटरों द्वारा घटना कॉल को प्राथमिकता देने और रिकॉर्ड करने, क्षेत्र में उत्तरदाताओं की स्थिति और स्थान की पहचान करने और प्रभावी रूप से प्रत्युत्तर कर्मियों को भेजने के लिए किया जाता है।

सीएडी इंजीनियर क्या है?

कंप्यूटर एडेड डिज़ाइन (CAD) इंजीनियर विशेष सॉफ़्टवेयर का उपयोग करके तकनीकी डिज़ाइन ड्रॉइंग बनाने के लिए जिम्मेदार होते हैं। वे प्रभावी रूप से क्षेत्र सर्वेक्षण करने के प्रभारी हैं।

CAD ने इतिहास को कैसे बदला है?

सीएडी ने इंजीनियरों को जो सबसे बड़ी प्रगति दी है, उनमें से एक है भागों या असेंबलियों को उनके अंतिम रूप में प्रस्तुत करने की क्षमता। यह इंजीनियरिंग डिजाइन प्रक्रिया को वास्तविकता में लाने में मदद करता है और इसे भविष्य में थोड़ा सा धक्का भी देता है।

सीएडी एक नाम है?

कैड नाम मुख्य रूप से अंग्रेजी मूल का एक लिंग-तटस्थ नाम है जिसका अर्थ है अरोगन मैन। कंप्यूटर एडेड डिजाइन के लिए संक्षिप्त नाम भी।

ऑटोकैड का आविष्कार क्यों किया गया था?

AutoCAD, Autodesk के पीछे कंपनी की स्थापना 1982 में जॉन वॉकर ने की थी। उन्होंने और अन्य 15 सह-संस्थापकों ने पांच अलग-अलग डेस्कटॉप ऑटोमेशन एप्लिकेशन विकसित करने का इरादा किया, उम्मीद है कि उनमें से एक एप्लिकेशन बंद हो जाएगा। उनका प्रमुख उत्पाद ऑटोकैड निकला।

सीएडी सॉफ्टवेयर के जनक कौन थे?

लेकिन यह विशेष रूप से दो लोगों का काम है - पैट्रिक हैनराट्टी और इवान सदरलैंड - जिन्हें आज हम सीएडी के रूप में जानते हैं, के लिए मंच तैयार करने का श्रेय काफी हद तक दिया जाता है।

Deadliest Diseases: दुनिया भर में इन बीमारियों से होती हैं सबसे ज्यादा मौतें ! जानकर आपके भी उड़ जाएंगे होश

Deadliest Diseases: दुनिया भर में एक के बाद एक गंभीर बीमारी का खतरा बढ़ता ही जा रहा है. आज हम आपको ऐसी बीमारियों के बारे में बताएंगे जिससे सबसे ज्यादा मौतें होती हैं.

By: ABP Live | Updated at : 30 Nov 2022 01:05 PM (IST)

इन बीमारियों से दुनियाभर में होती है सबसे ज्यादा मौत

Deadliest Diseases: दुनिया भर में होने वाली ज्यादातर मौतें इन 10 बीमारियो के कारण ही होती है. इन 10 बीमारियों में सबसे ऊपर है दिल की बीमारी, हार्ट या ब्रेन स्ट्रोक और रेस्पिरेटरी सिस्टम से जुड़ी बीमारी. इन सब के अलावा क्या आप जानते हैं और कौनी सी बीमारियां हैं जो खतरनाक रूप ले लेती है. जब लोग दुनिया के सबसे खतरनाक बीमारियों के बारे में सोचते हैं तो उनके दिमाग में शायद ही इन बीमारियों का नाम आता होगा. कई ऐसी बीमारी है जिनका कोई इलाज नहीं है लेकिन इस लिस्ट के जरिए हम आपको ऐसी बीमारियों का नाम बताएंगे जिनका इलाज है लेकिन सबसे ज्यादा उसी की वजह से लोग मरते हैं. वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाजिशेन के मुताबिक इन बीमारियों से 55.46 मिलियन लोगों की मौत हो गई थी.

दुनिया की सबसे खतरनाक बीमारियों की लिस्ट


इस्केमिक दिल की बीमारी और कोरोनरी आर्टरी संबंधित बीमारी

कोरोनरी आर्टरी डिजीज (CAD)

News Reels

दुनिया की सबसे खतरनाक बीमारी कोरोनरी आर्टरी डिजीज (CAD) है. इसे इस्केमिक दिल की बीमारी भी कहा जाता है, CAD तब होता है जब हृदय को सही मात्रा में ब्लड नहीं मिलती है जितनी मिलनी चाहिए. इस बीमारी सीएडी(CAD) में ऐसा होता है कि जो नर्व वेसल्ट हार्ट को ब्लड पहुंचाती है वह सिकुड़ जाती है सीएडी(CAD) जिसकी वजह से हार्ट में ब्लड की कमी हो जाती है और सीएडी से सीने में दर्द सीएडी(CAD) और दिल की बीमारी संबंधित कई तरह की परेशानियां शुरू हो जाती है.

स्ट्रोक

किसी व्यक्ति को स्ट्रोक तब पड़ता है जब आपके दिमाग के आर्टरी से ब्लड लीक होने लगता है या सही मात्रा में दिमाग में ऑक्सिजन नहीं पहुंचते हैं जिसकी वजह से सेल्स मरने लगते है. स्ट्रोक पड़ने के बाद सुन्न या चलने, उठने औऱ देखने में परेशानी हो सकती है. इससे आप अपाहिज भी हो सकते हैं. किसी व्यक्ति को अगर स्ट्रोक आया है और उसे तीन घंटे के अंदर इलाज मिल जाए तो वह विकलांग होने से बच जाएगा.

रेस्पिरेटरी सिस्टम में इंफेक्शन

सांस लेने में दिक्कत या रेस्पिरेटरी सिस्टम या फेफड़ों में इंफेक्शन के कई कारण हो सकते हैं.

इन्फ्लूएंजा, या फ्लू

हालांकि वायरस आमतौर पर सांस की नली में इंफेक्शन के कारण होते हैं ऑक्सीजन का ठीक मात्रा में नली में नहीं जाना. वे बैक्टीरिया के कारण भी हो सकते हैं.

क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD)
क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD) बीमारी ऐसी है जो काफी टाइम तक मरीज को बीमार करके रखता है. यह बीमारी फेफड़ों में इंफेक्शन फैलने के कारण होता है जिससे सांस लेने में मुश्किल होती है. क्रोनिक ब्रोंकाइटिस COPD के प्रकार है.

ट्रेकिआ, ब्रोन्कस और फेफड़ों का कैंसर

धूम्रपान और सेकेंडहैंड धूम्रपान करने से सांस की रेस्पिरेटरी सिस्टम या फेफड़ों संबंधी कैंसर होना का खतरा रहता है. या घरेलू पॉल्यूशन भी हो सकता है. साल 2015 की रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया में हर साल इस कैंसर के लगभग 18 मिलियन मरीज में इजाफा होता हैं. साथ ही इसमें 100 प्रतिशत वृद्धि होने की संभावना है. पॉल्यूशन औऱ धूम्रपान के कारण रेस्पिरेटरी सिस्टम और लंग्स संबंधित कैंसर में हर साल 81 से 100 प्रतिशत हर साल बढ़ोतरी हो रही है.

डायबिटीज

पूरी दुनिया में डायबिटीज के मरीज की संख्या काफी ज्यादा है. ये ऐसे मरीज हैं जिन्हें रोजाना इंसुलिन भी लेना पड़ता है. टाइप 1 के डायबिटीज वाले मरीज को ऑटोइम्यून भी कहा जाता है. टाइप 2 में डायबिटीज होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे खराब डाइट, एक्सरसाइज नहीं करना.

अल्जाइमर
अल्जाइमर बीमारी एक ऐसी बीमारी है जो किसी भी इंसान की सोचने की शक्ति नष्ट कर देती है. यह धीरे-धीरे आपके सोच, तर्क और रोजमर्रा की जिंदगी को काफी ज्यादा प्रभावित करता है, 60 से 70 प्रतिशत अल्जाइमर के मरीज एक भ्रम में जीते हैं उन्हें पिछला कुछ याद नहीं रहता है. आजकल जवान लोगों में भी यह बीमारी देखी गई है अगर इसका समय से इलाज नहीं किया गयो तो.

डिहाइड्रेशन और डायरिया

डायरिया और डिहाइड्रेशन की समस्या आपके पेट खराब होने के साथ शुरू होती है. लगातर दस्त होना डायरिया का संकेत है. इससे आपके शऱीर से धीरे-धीरे नमक और पानी बाहर निकल आता है जिसके बाद आपको कमजोरी होने लगती है. ऐसा लगातार होने से आपका शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है जिससे आपको कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. डायरिया आमतौर पर खराब खाना और गंदा पानी पीने के कारण हो सकता है.

टीबी

टीबी फेफड़ों में इंफेक्शन के कारण होता है. यह माइकोबैक्टीरियम ट्यूबरकुलोसिस नामक बैक्टीरिया के कारण होती है. इसका इलाज संभव है लेकिन अगर इस बीमारी का पता आपको शुरुआत में ही लग जाए तब. एचआईवी वालों मरीजों की ज्यादातर मौत टीबी के कारण ही होती है. जिन लोगों को एचआईवी है उन्हें टीवी का संक्रमण फैलने का खतरा 18 प्रतिशत बढ़ जाता है.

सिरोसिस

लिवर की खराबी से सिरोसिस जैसी गंभीर बीमारी जन्म ले सकती है. एक हेल्दी लिवर आपके शरीर के खून फिल्टर करने का काम करती है. साथ ही पूरे शरीर में साफ खून भेजती है. अगर लिवर ही खराब होने लगे को फिर आपका शऱीर भी खराब होने लगता है.

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Published at : 30 Nov 2022 12:07 PM (IST) Tags: World Healt Report causes of death हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: Lifestyle News in Hindi

सीएडी(CAD)

CAD “Computer-Aided Design” के लिए जाना जाता है। CAD 2D और 3D designs बनाने के लिए कंप्यूटर का उपयोग है। सामान्य प्रकार के CAD में द्वि-आयामी layout design और three-dimensional शामिल हैं।

2D CAD में कई अनुप्रयोग हैं, लेकिन इसका उपयोग commonly पर vector-based लेआउट layouts डिजाइन करने के लिए किया जाता है। उदाहरण के लिए, आर्किटेक्ट CAD software का उपयोग फर्श योजनाओं और बाहरी landscapes के निर्माण के ऊपरी दृश्य बनाने के लिए कर सकते हैं

ये लेआउट, जिनमें vector graphics होते हैं, को विभिन्न आकारों में बढ़ाया जा सकता है, जिनका उपयोग प्रस्तावों या blueprints के लिए किया जा सकता है। 2D CAD में sketches and mockups जैसे चित्र भी शामिल हैं, जो design process की शुरुआत में आम हैं।

CAD

3D CAD आमतौर पर video सीएडी(CAD) games और animated फिल्मों के विकास में उपयोग किया जाता है। इसमें कई real-world के अनुप्रयोग भी हैं, जैसे product design, civil engineering और simulation modeling। 3D CAD में कंप्यूटर एडेड manufacturing (CAM) शामिल सीएडी(CAD) है, जिसमें three-dimensional वस्तुओं का वास्तविक निर्माण शामिल है।

2D CAD ड्रॉइंग की तरह, 3D मॉडल आमतौर पर सीएडी(CAD) vector-based होते हैं, लेकिन vectors में दो के बजाय तीन आयाम शामिल होते हैं। यह designers को जटिल 3D आकार बनाने की अनुमति देता है जिसे स्थानांतरित, rotated, बड़ा और संशोधित किया जा सकता है। कुछ 3D models विशेष रूप से बहुभुजों से बनाए जाते हैं, जबकि अन्य में Bézier curves और अन्य गोलाकार सतह शामिल हो सकते हैं।

3D मॉडल बनाते समय, CAD डिज़ाइनर पहले object के मूल आकार या “wireframe” का निर्माण कर सकता है। एक बार आकार पूरा हो जाने पर, सतहों को जोड़ा जा सकता है जिसमें रंग, gradients या designs शामिल हो सकते हैं जिन्हें बनावट मानचित्रण नामक प्रक्रिया का उपयोग करके लागू किया जा सकता है।

कई CAD कार्यक्रमों में प्रकाश व्यवस्था को समायोजित करने की क्षमता शामिल होती है, जो वस्तु की छाया और प्रतिबिंब को affects करती है। कुछ प्रोग्राम में एक timeline भी शामिल होती है जिसका उपयोग 3D animations बनाने के लिए किया जा सकता है।

रेटिंग: 4.37
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 461
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *