प्रवृत्ति पर व्यापार

कॉल ऑप्शन का उदाहरण

कॉल ऑप्शन का उदाहरण
Android Smartphone यूजर्स के डेटा के चोरी होने की उम्मीद है।

कॉल ऑप्शन का उदाहरण

Please Enter a Question First

रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं उत्प्रेरक

अपघटन अभिक्रिया का उदाहरण है- .

Updated On: 27-06-2022

UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

`2SO_(2)+O_(2)rarr2SO_(3)` `2KClO_(3)rarr2KCl+3O_(2)` `Mg+2HClrarrMgCl_(2)+H_(2)` `HCl+NaOHrarrNaCl+H_(2)O`

Get Link in SMS to Download The Video

Aap ko kya acha nahi laga

हेलो पेंट्स क्वेश्चन दिया गया यहां पर की अपघटन अभिक्रिया का उदाहरण है ठीक तो इसके लिए हमारे चारों ऑप्शन दिए गए हैं तो इसमें दिए गए है टीटू 10210 ऑफिस कॉल टू एसओसी दूसरा बलिया टू kclo3 इज इक्वल टू टू के सीरियल प्लस थ्री यूट्यूब तीसरा ऑप्शन दिए गए एमजी प्लस टू एचसीएल स्कूल टू mgcl2 प्लस h2o और चौथा ऑप्शन दिए गए 6 प्लस 5 इक्वल टू 79 प्लस h2o टिकट तो इन चारों ऑप्शन में से हमें बताना है कि इसमें कौन सा हमारा अपघटन अभिक्रिया ठीक तो जान लेते हम लोग अपघटन अभिक्रिया के बारे में आप - सक्रिय होती क्या है तो अब घटना प्रिय ज्योर्तिमार्इ ऐसी अभिक्रिया हमके सकते हैं ऐसी रासायनिक अभिक्रिया रासायनिक अभिक्रिया

एक ऐसी भी होती है क्रश आने के फ्री होती है ऐसी रासायनिक क्रिया जिसमें जिसमें एक योगिक एकल योगिक एकल योगिक दो या कॉल ऑप्शन का उदाहरण दो या दो से दो या दो से अधिक दो या दो से अधिक सरल पदार्थों में तरल पदार्थों में टूट जाते हैं ठीक तो ऐसे ही अपने को हम क्या करेंगे तो इन्हीं को हम आपको गार्डन अभिक्रिया कहते हैं क्या बोलते

अपघटन अभिक्रिया कहते हैं ठीक है तो इसमें क्या होता है जब गण आपकी यह मैं यह जो है हमरा साहनी के प्रिय जिसमें एक ही होगी जो होगा वह दो या दो से अधिक तरल पदार्थों में टूट जाता है तो हम आपसे देखते हैं जैसे कि हम देख रहे हैं कि हमारा कोई सपोर्ट है क्या है सल्फर डाइऑक्साइड so2 और प्लस ऑटो ऑक्सीजन के यहां पर हमारे कितने हैं तो यहां पर हमारे दो ए कंपाउंड है ठीक कितने कंपाउंड है दो और हमने आपको भी बताया कि जिसमें केवल एक योगिक देश में कितने हो गए थे हमारे दो कंपाउंड से मिल कर के हमारे 1 एकड़ गेहूं का निर्माण हो रहा है ठीक है अर्थात यह वाला ऑप्शन पहला गलत होगा क्योंकि अब को डायरिया में क्या होता है कि एक आ गई होगी जो है दो या दो से अधिक तरल पदार्थों में टूट रहे थे फिर से देखते हैं दूसरा ऑप्शन कह दिया गया टू kclo3 पोटैशियम हाइड्रोक्साइड ठीक है अब इस

देख रहे हमारा क्या एक एकल ली होगी कि अब यह जो है एक कलयुगी कुमार किस में टूट रहा है 2 साल पदार्थ एक तो हमारा बना रहे हैं पर पोटेशियम क्लोराइड और दूसरे मारा ऑक्सीजन ठीक तो जिया दो सरल योगी को में या 2 साल पदार्थों में क्या हो रहा है टूट रहा है ठीक है तो और साथ में हमारे जो आपके योगी कैसी है फ्री होगी तो यह हमारी अपघटन आपकी होगी तो आपका नंबर दूसरा हमारा ही सही ऑप्शन होगा अब तीसरा ऑप्शन अगर देखें तो मैग्नीशियम और प्लस हाइड्रोजन क्लोराइड तो यह भी दो योगी को शामिल कर यहां पर दो दो अभी बना रहे हैं तो पता ठीक है और यहां पर क्यों देख रहे हैं यह वाला ऑप्शन गलत हो जाएगा ठीक है तुम्हारा जो सही ऑप्शन बताओ क्या होगा आपका नंबर दो हमारे यह सही ऑप्शन होगा ठीक तो आप - पिया का उधर हमारा जो है या जो है ऑप्शन नंबर दो होगा ठीक यहां शुरू हुआ थैंक यू

Andorid यूजर्स पर मंडरा रहा बड़ा खतरा! सैमसंग, शाओमी, ओप्पो और गूगल जैसी कंपनियों के यूजर्स का निजी डेटा हो सकता है चोरी

Samsung, Xiaomi, Oppo, Google आदि के स्मार्टफोन यूजर्स के निजी डेटा पर खतरा हो सकता है।

Andorid यूजर्स पर मंडरा रहा बड़ा खतरा! सैमसंग, शाओमी, ओप्पो और गूगल जैसी कंपनियों के यूजर्स का निजी डेटा हो सकता है चोरी

Android Smartphone यूजर्स के डेटा के चोरी होने की उम्मीद है।

Android Smartphone (ऐंड्रॉयड स्मार्टफोन) इस्तेमाल करते हैं तो थोड़ी टेंशन वाली खबर है। Samsung, Xiaomi, Oppo, Google और कई दूसरी स्मार्टफोन कंपनियों के डिवाइस में पांच ऐसी खामियां हैं जिनमें साइबर क्रिमिनल सेंध लगा सकते हैं। इन खामियों का पता शोधकर्ताओं ने इसी साल जून में Pixel 6 स्मार्टफोन्स में लगाया था।

हालांकि, चिप निर्माताओं ने अपनी तरफ से पहले ही बग फिक्स करने के लिए अपडेट रोल कॉल ऑप्शन का उदाहरण आउट कर दिया है। लेकिन अभी भी लाखों यूजर्स कथित तौर पर इस अटैक के निशाने पर हैं। जानकारी के अनुसार, यह खतरा सिर्फ उन डिवाइस में है जिनमें ARM Mali ग्राफिक्स प्रोसेसिंग यूनिट चिपसेट या GPU चिपसेट दिया गया है। सुरक्षा में इन खामियों के चलते क्रिमिनल्स, ऐंड्रॉयड OS के परमिशन मॉडल को बायपास कर पाएंगे और उन्हें पूरे सिस्टम का एक्सेस मिल जाएगा। इसके चलते यूजर डेटा चोरी होने की भी संभावना भी है।

गैलेक्सी एस22 सीरीज को छोड़कर सभी में बग

उदाहरण के लिए, गैलेक्सी एस22 सीरीज कॉल ऑप्शन का उदाहरण को छोड़कर बाकी सभी डिवाइस जो Exynos चिपसेट के साथ आते हैं, फिलहाल सभी बग और सिक्योरिटी में समस्याओं का सामना कर रहे हैं।

Kapoor Family Education: सबसे ज्यादा एजुकेटेड हैं रणबीर की बहन रिद्धिमा, जानिए कितना पढ़ी लिखी है कपूर फैमिली

Demonetization in SC: रामजेठमलानी के आधे सूटकेस में ही आ जाते 1 करोड़ रुपये, जानिए नोटबंदी फैसले पर सुनवाई के दौरान ऐसा क्यों बोले चिदंबरम

Mangal Transit: 120 दिन शुक्र की राशि में विराजमान रहेंगे मंगल ग्रह, इन 3 राशि वालों को धनलाभ के साथ तरक्की के प्रबल योग

Google की प्रोजेक्ट ज़ीरो (Project Zero) टीम द्वारा पब्लिश एक रिपोर्ट के मुताबिक, ‘Patch gap’ के बारे में सबसे पहले Google के सिक्योरिटी एनालिस्ट ने जानकारी दी। यह पैच ऐंड्रॉयड ईकोसिस्टम में पूरी सप्लाई चेन को प्रभावित कर रहा है। इसका मतलब पैच रिलीज और इंस्टॉल किए जाने के बीच लगने वाले समय कॉल ऑप्शन का उदाहरण से है। अधिकतर अटैकर खामी ढूंढने के बजाय इंजीनियर पैच को रिवर्स कर देते हैं और उनके लिए सिस्टम को एक्सप्लॉइट (सेंध लगाने) करने का मौका पैच गैप बन जाता है।

इसके अलावा, एक और जानी-पहचानी बड़ी समस्या मौजूद है। सॉफ्टवेयर में पैच को शामिल करने से पहले उन्हें सेकंड वेंडर (दूसरे वेंडर) के लिए इंतजार करना होता है। ऐसा इसलिए भी होता है क्योंकि कई स्मार्टफोन वेंडर अपने फोन में अपना ऐंड्रॉयड वर्जन देते हैं। गूगल की प्रोजेक्ट ज़ीरो टीम का कहना है कि यूजर के लिए इस समस्या का एक ही हल है कि स्मार्टफोन कंपनियों द्वारा अपडेट रोलआउट।

व्हाट्सप्प में आ रहा है, कमाल का फीचर्स ऑडियो स्टेटस भी कर सकेंगे शेयर

WhatsApp के एक नए फीचर का स्क्रीनशॉट सामने आया है। जिसमें स्टेटस अपडेट के लिए माइक्रोफोन का आइकन देखा जा सकता है। इसका स्टेटस फीचर यूजर्स काफी पसंद करते हैं। जल्द ही इसमें आपको एक और ऑप्शन मिलेगा। WhatsApp पर वॉयस स्टेटस लगा सकेंगे।

मेटा के स्वामित्व वाले इंस्टैंट मैसेजिंग एप WhatsApp एक और नए फीचर पर काम कर रहा है। नए अपडेट के बाद WhatsApp के स्टेटस पर आप वॉयस मैसेज भी शेयर कर सकेंगे। इस अपकमिंग फीचर के बारे में WABetaInfo ने जानकारी दी है। जो कि व्हाट्सएप के नए - नए फीचर को ट्रैक करता है। रिपोर्ट में कहा गया है। कि स्टेटस के लिए वॉयस नोट 30 सेकेंड का होगा। आपको याद दिला दें कि स्टेटस वीडियो भी आप 30 सेकेंड का ही शेयर करते हैं।

रिपोर्ट के साथ नए फीचर का एक स्क्रीनशॉट भी सामने आया है। जिसमें स्टेटस अपडेट के लिए माइक्रोफोन का आइकन देखा जा सकता है। अपडेट के बाद WhatsApp iOS यूजर को स्टेटस अपडेट पर क्लिक करके फिर माइक्रोफोन वाले आइकन पर क्लिक करना होगा। रिपोर्ट की मानें तो वॉट्सऐप स्टेटस में शेयर होने वाला वॉयस नोट एंड - टू - एंड एन्क्रिप्टेड होगा। ये फीचर स्टेबल वर्जन पर कब तक आएगा , इसकी जानकारी फिलहाल नहीं है। इसके अलावा वॉट्सऐप एक लॉक स्क्रीन फीचर पर भी काम कर रहा है।

ये फीचर WhatsApp वेब वर्जन के लिए होगा। कई दूसरे फीचर्स भी जल्द ही इस फीचर्स भी जल्द ही इस प्लेटफॉर्म पर जुड़ सकते हैं। बीटा वर्जन में डेस्कटॉप ऐप के लिए अलग से कॉलिंग टैब का फीचर भी स्पॉट किया गया है। वहीं स्टेबल वर्जन में WhatsApp पर हाल में कम्युनिटी और वॉट्सऐप पोल जैसे फीचर्स जोड़े गए हैं।

Andorid यूजर्स पर मंडरा रहा बड़ा खतरा! सैमसंग, शाओमी, ओप्पो और गूगल जैसी कंपनियों के यूजर्स का निजी डेटा हो सकता है चोरी

Samsung, Xiaomi, Oppo, Google आदि के स्मार्टफोन यूजर्स के निजी डेटा पर खतरा हो सकता है।

Andorid यूजर्स पर मंडरा रहा बड़ा खतरा! सैमसंग, शाओमी, ओप्पो और गूगल जैसी कंपनियों के यूजर्स का निजी डेटा हो सकता है चोरी

Android Smartphone यूजर्स के डेटा के चोरी होने की उम्मीद है।

Android Smartphone (ऐंड्रॉयड स्मार्टफोन) इस्तेमाल करते हैं तो थोड़ी टेंशन वाली खबर है। Samsung, Xiaomi, Oppo, Google और कई दूसरी स्मार्टफोन कंपनियों के डिवाइस में पांच ऐसी खामियां हैं जिनमें साइबर क्रिमिनल सेंध लगा सकते हैं। इन खामियों का पता शोधकर्ताओं ने इसी साल जून में Pixel 6 स्मार्टफोन्स में लगाया था।

हालांकि, चिप निर्माताओं ने अपनी तरफ से पहले ही बग फिक्स करने के लिए अपडेट रोल आउट कर दिया है। लेकिन अभी भी लाखों यूजर्स कथित तौर पर इस अटैक के निशाने पर हैं। जानकारी के अनुसार, यह खतरा सिर्फ उन डिवाइस में है जिनमें ARM Mali ग्राफिक्स प्रोसेसिंग यूनिट चिपसेट या GPU चिपसेट दिया गया है। सुरक्षा में इन खामियों के चलते क्रिमिनल्स, ऐंड्रॉयड OS के परमिशन मॉडल को बायपास कर पाएंगे और उन्हें पूरे सिस्टम का एक्सेस मिल जाएगा। इसके चलते यूजर डेटा चोरी होने की भी संभावना भी है।

गैलेक्सी एस22 सीरीज को छोड़कर सभी में बग

उदाहरण के लिए, गैलेक्सी एस22 सीरीज को छोड़कर बाकी सभी डिवाइस जो Exynos चिपसेट के साथ आते हैं, फिलहाल सभी बग और सिक्योरिटी में समस्याओं का सामना कर रहे हैं।

Kapoor Family Education: सबसे ज्यादा एजुकेटेड हैं रणबीर की बहन रिद्धिमा, जानिए कितना पढ़ी लिखी है कपूर फैमिली

Demonetization in SC: रामजेठमलानी के आधे सूटकेस में ही आ जाते 1 करोड़ रुपये, जानिए नोटबंदी फैसले पर सुनवाई के दौरान ऐसा क्यों बोले चिदंबरम

Mangal Transit: 120 दिन शुक्र की राशि में विराजमान रहेंगे मंगल ग्रह, इन 3 राशि वालों को धनलाभ के साथ तरक्की के प्रबल योग

Google की प्रोजेक्ट ज़ीरो (Project Zero) टीम द्वारा पब्लिश एक रिपोर्ट के मुताबिक, ‘Patch gap’ के बारे में सबसे पहले Google के सिक्योरिटी एनालिस्ट ने जानकारी दी। यह पैच ऐंड्रॉयड ईकोसिस्टम में पूरी सप्लाई चेन को प्रभावित कर रहा है। इसका मतलब पैच रिलीज और इंस्टॉल किए जाने के बीच लगने वाले समय से है। अधिकतर अटैकर खामी ढूंढने के बजाय इंजीनियर पैच को रिवर्स कर देते हैं और उनके लिए सिस्टम को एक्सप्लॉइट (सेंध लगाने) करने का मौका पैच गैप बन जाता है।

इसके अलावा, एक और जानी-पहचानी बड़ी समस्या मौजूद है। सॉफ्टवेयर में पैच को शामिल करने से पहले उन्हें सेकंड वेंडर (दूसरे वेंडर) के लिए इंतजार करना होता है। ऐसा इसलिए भी होता है क्योंकि कई स्मार्टफोन वेंडर अपने फोन में अपना ऐंड्रॉयड वर्जन देते हैं। गूगल की प्रोजेक्ट ज़ीरो टीम का कहना है कि यूजर के लिए इस समस्या का एक ही हल है कि स्मार्टफोन कंपनियों द्वारा अपडेट रोलआउट।

रेटिंग: 4.75
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 454
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *