भारतीय व्यापारियों के लिए गाइड

शेयर बाजार में सुरक्षित

शेयर बाजार में सुरक्षित

इक्विटी और डेरिवेटिव्स में निवेश करें

इक्विटी निवेश में आपके बैंक खाते में साधारण बचत राशि की तुलना में अधिक बढ़त होती है। इक्विटी और वित्तीय डेरिवेटिव्स बाजारों में निवेश करने से, उच्च दर का रिटर्न देते हुए और निवेश की गई मूल राशि के मान को बढ़ाते हुए मुद्रास्फीति के दबाव को कम करने में सहायता मिलती है। पूंजीगत लाभ और आवधिक आय इक्विटी निवेश से होने वाले मुनाफ़े के स्रोत हैं।

  • समय के साथ धन बढ़ाएं
  • किसी भी समय चलनिधि
  • लाभांश और पूंजी की वृद्धि
  • मुद्रास्फीति से बचाव
  • एक्सचेंज में व्यापार
  • स्तविक समय में निवेश को ट्रैक करें

इक्विटी निवेश के लिए अमेरिका को क्यों चुनें

  • लीवरेज उत्पाद
  • निजीकृत इक्विटी ट्रेडिंग सलाह
  • अनुसंधान समर्थित इक्विटी निवेश योजनाएं
  • प्रोफाइल आधारित इक्विटी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म
  • सभी डिवाइस पर सुरक्षित इक्विटी ट्रेडिंग

अभी डीमैट खाता खोलें!

Loading.

इक्विटी व्यापार के लिए अनुशंसाएं

  • CMP 16.88
  • Target Price 0
  • CMP 10.9
  • Target Price 0
  • CMP 16.97
  • Target Price 0
  • CMP 106.22
  • Target Price 0

Loading.

  • CMP 16.88
  • Target Price 0
  • CMP 19.7
  • Target Price 0
  • CMP 10.9
  • Target Price 0
  • CMP 16.97
  • Target Price 0

Loading.

No data at this time

Loading.

2 दिनों में प्राप्त किया 8.00 %

1 दिनों में प्राप्त किया 7.30 %

1 दिनों में प्राप्त किया 6.50 %

1 दिनों में प्राप्त किया 6.40 %

Loading.

अपने रिटर्न की गणना करें

  • रिटर्न कैलकुलेटर
  • लक्ष्य कैलकुलेटर

आज ही निवेश शुरू करें

Loading.

आज ही निवेश शुरू करें

Loading.

आज ही निवेश शुरू करें

Loading.

Loading.

मेरे पोर्टफ़ोलियो में सुधार करें

हमारे उन्नत बहु-भाषीय पोर्टफोलियो पुनर्गठन टूल को आपका मार्गदर्शन करने दें।

Portfolio restructuring tool

हमारा पोर्टफोलियो पुनर्गठन टूल कैसे कार्य करता है

अपने मौजूदा पोर्टफोलियो को अपलोड करें

अपने मौजूदा पोर्टफोलियो को अपलोड करने से शुरूआत करें

हमारी समीक्षाएं और व्यक्तिगत अंतर्दृष्टि प्राप्त करें

हम आपके पोर्टफोलियो की समीक्षा करेंगे और व्यक्तिगत अंतर्दृष्टि साझा करेंगे

अपने पोर्टफोलियो पर हमारी अनुशंसाएं प्राप्त करें

हम आपको सलाह देंगे कि आप अपने पोर्टफोलियो को कैसे बदल सकते हैं और सुधार सकते हैं

एडुएम.ओ वीडियो

गहन विस्तृत अध्याय | आसानी से सीखे जाने वाले वीडियो का विशाल संग्रह | लेख और ब्लॉग | मजेदार, प्रभावी और सहायक

ब्लॉग्स

All You Need To Know About Windfall Tax

Stock Market Timing, Advice and Strategy

What Is Pre Open Market Stock Trading

इक्विटी व्यापार और डेरिवेटिव्स एफ.ए.क्यू

इंट्राडे क्या है?

इंट्राडे व्यापार एक्सचेंज द्वारा खरीदे जाने वाले व्यापारिक घंटों के दौरान उसी दिन शेयरों की खरीद और बिक्री के क्षेत्र में कार्य करता है। जैसा कि नाम से पता चलता है, "इंट्रा-डे व्यापार" एक शेयर व्यापारी को संदर्भित करता है जो उसी व्यापारिक दिन पर एक स्क्रिप्ट में अपना स्थान खोलता और बंद करता है। संक्षेप में, व्यापारिक दिन के अंत से पहले ही पदों को समाप्त कर दिया जाता है।

इक्विटी में व्यापार कैसे शुरू कर सकता हूं?

शेयर बाजार में व्यापार शेयर बाजार में सुरक्षित या निवेश शुरू करने के लिए, आपको एक बैंक खाते, व्यापारिक खाते, डीमैट खाते और एक ब्रोकिंग खाते की आवश्यकता होगी। एक बार जब आपके पास ये सभी होते हैं, तो आपको अपने अनुसंधान कौशल को अच्छा करने की आवश्यकता होगी, यदि आप मोतीलाल ओसवाल जैसी अच्छी ब्रोकिंग कंपनी का चयन करते हैं, तो इस पर आपका मार्गदर्शन किया जा सकता है।

इक्विटी बाजार में निवेश के लाभ?

शेयर बाजार में निवेश करने का एक बड़ा लाभ आपके पैसे को बढाने का मौका है। शेयर बाजारों में पैसा लगाने के कई अन्य लाभ हैं जैसे विविधता के लिए, चल निधि, मुद्रास्फीति के आगे बने रहने के लिए सबसे अच्छा तरीका है।

मैं डेरिवेटिव्स का व्यापार कहाँ कर सकता हूँ?

आप एक्सचेंज या बिना तैयारी के माध्यम के डेरिवेटिव्स का व्यापार कर सकते हैं। एक्सचेंज के माध्यम से व्यापार को मानकीकृत किया जाता है जबकि एक ओटीसी दो पक्षों के बीच एक निजी समझौता होता है और इसे मानकीकृत नहीं किया जाता है।

क्या मैं फोन पर व्यापार कर सकता हूं?

खुदरा ब्रोकिंग ग्राहक शेयर बाजार में सुरक्षित के रूप में, आप मोतीलाल ओसवाल के माध्यम से इक्विटी, डेरिवेटिव, कमोडीटीज़ , मुद्राएं, म्यूचुअल फंड, आई.पोस, बॉन्ड और बीमा का व्यापार कर सकते हैं। वेब, मोबाइल, डेस्कटॉप या कॉल-एन-ट्रेड के माध्यम से बी.एस.ई, एन.एस.ई, एन.सी.डी.ई.एक्स और एम.सी.एक्स पर व्यापार करें।

इक्विटी बाजार में शेयरों के प्रकार?

कंपनी के पास कई अलग-अलग प्रकार के शेयर हो सकते हैं, जो लाभ के पात्रता के संबंध में विभिन्न शर्तों और अधिकारों के साथ आते हैं, यदि व्यापार तनावयुक्त होता है, और व्यापार के भीतर वोटिंग के अधिकार होते हैं तो पूँजी के लिए पात्रता होती है। 5 मुख्य प्रकार साधारण शेयर, गैर-वोटिंग साधारण शेयर, वरीयता शेयर, संचयी वरीयता शेयर और रिडीम योग्य शेयर हैं।

शेयर बाजार में इक्विटी क्या है?

इसे सीधे तौर पर कहें तो इक्विटी एक कंपनी का शेयर या शेयर है। जब कोई निवेशक किसी कंपनी का शेयर या इक्विटी खरीदता है, तो वे उस कंपनी के मालिकाना हक हासिल करते हैं।

मैं अपने ऑर्डर कैसे करूँ?

जब कोई निवेशक शेयर खरीदने या बेचने का आदेश देता है, तो दो मौलिक निष्पादन विकल्प होते हैं: ऑर्डर "बाजार में" या "सीमा पर" डालें। बाजार के आदेश लेनदेन वर्तमान या बाजार मूल्य पर जितनी जल्दी हो सके निष्पादित करने के लिए होते हैं। इसके विपरीत, एक सीमा ऑर्डर अधिकतम या न्यूनतम मूल्य निर्धारित करता है जिस पर आप खरीदने या बेचने के इच्छुक हैं।

स्वेट इक्विटी शेयर क्या हैं?

स्वेट इक्विटी शेयर एक कंपनी द्वारा अपने कर्मचारियों या निदेशकों को या तो छूट पर या नकदी के अलावा अन्य विचार के लिए जारी किए गए शेयर हैं। स्वेट इक्विटी शेयर अक्सर कंपनी को मूल्यवान बौद्धिक संपदा अधिकारों या मुख्य मूल्य परिवर्धन का पता लगाने के लिए जारी शेयर बाजार में सुरक्षित शेयर बाजार में सुरक्षित किए जाते हैं।

डेरिवेटिव व्यापार क्या है?

डेरिवेटिव दो या दो से अधिक पार्टियों के बीच एक अनुबंध है जो एक अंतर्निहित वित्तीय संपत्ति पर आधारित है। डेरिवेटिव्स किसी लाभ की बुकिंग की उम्मीद में, बिना किसी वास्तविक परिसंपत्ति को खरीदे, एक अन्तर्निहित परिसंपत्ति के भविष्य मूल्य गतिविधियों पर अनुमान लगाने के लिए व्यापारियों के द्वारा उपयोग किया जाता है।

भारतीय बाजार को सुरक्षित मान रहे विदेशी निवेशक: चीनी शेयर बाजार में गिरावट का फायदा यहां के बाजार को मिला

इस साल दुनियाभर के बाजारों में भारी गिरावट के बीच भारतीय शेयर बाजार सेफ हैवन यानी निवेश के लिहाज से सुरक्षित माने जा रहे हैं। घरेलू शेयर बाजार का प्रदर्शन अन्य बाजारों से बेहतर रहने का अनुमान है। दिसंबर 2022 सेंसेक्स और निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच सकते हैं।

दरअसल विदेशी निवेशकों की वापसी बाजार को रफ्तार दे रही है। इस बीच बाजार में नए रिटेल निवेशकों का आना जारी है। भारतीय बाजार को चीनी शेयर बाजार में गिरावट का फायदा मिला है। ग्लोबल फंडों ने अक्टूबर में चीन में बिकवाली करके भारतीय बाजार में पैसा लगाया।

विदेशी निवेशकों ने भारतीय बाजार में 250 करोड़ डॉलर लगाए
इस तिमाही अब तक विदेशी निवेशक भारतीय शेयर बाजार में करीब 250 करोड़ डॉलर (20.34 हजार करोड़ रुपए) लगा चुके हैं। पिछली तिमाही उन्होंने 600 करोड़ डॉलर (48.83 हजार करोड़ रुपए) निकाले थे।

लगातार सातवें साल बढ़त
इस साल अब तक 6.1% तेजी के साथ सेंसेक्स लगातार सातवें साल बढ़त दर्ज कराने जा रहा है। यह बढ़त एक लाख करोड़ डॉलर की मार्केट वैल्यू वाले बाजारों के बेंचमार्क इंडेक्स में सबसे अधिक है।

सोमवार को उतार-चढ़ाव के बीच 171 अंक टूटकर बंद हुआ सेंसेक्स
घरेलू शेयर बाजार सोमवार को उतार-चढ़ाव के बीच हल्की गिरावट पर बंद हुआ। सेंसेक्स 171 अंक गिरकर 61,624 पर और निफ्टी 21 अंकों की गिरावट के साथ 18,329 पर आ गया। विश्लेषकों के मुताबिक, अक्टूबर में थोक और रिटेल महंगाई घटी हैं। इससे बाजार का भरोसा मजबूत होगा क्योंकि महंगाई पर नियंत्रण के लिए आरबीआई नीतिगत दरें बढ़ाना बंद कर सकता है।

शेयर बाजार में निवेश करने के लिए क्या करना होता है? 8 बुनियादी सवालों के जवाब

Share Market Guide: शेयर खरीदने के लिए क्या करना होगा, किस कंपनी का शेयर खरीदे?

शेयर बाजार में निवेश करने के लिए क्या करना होता है? 8 बुनियादी सवालों के जवाब

महंगाई (Inflation) बढ़ रही है और रुपये (Rupee) का मूल्य घट रहा है. यानी सिर्फ पैसा बचाने से काम नहीं चलेगा, पैसा बढ़ाना भी पड़ेगा. ऐसे में शेयर बाजार (Share Market) में निवेश अच्छा विकल्प हो सकता है. लेकिन शेयर मार्केट (Stock Market) में पहली बार निवेश करने वालों के लिए क्या जानना जरूरी है? शेयर बाजार में निवेश करने के लिए क्या करना होता है?

कब कर सकते हैं? किस शेयर में पैसा लगाएं? ये सारी बातें यहां हम आपको बता रहे हैं.

शेयर बाजार में निवेश करने के लिए क्या करना होता है? 8 बुनियादी सवालों के जवाब

1. शेयर क्या है?

किसी कंपनी को चलाने के लिए पूंजी यानी कैपिटल की जरूरत पड़ती है. अब कंपनी को चलाने के लिए मालिक बाजार से पैसा उठाना चाहता है तो वह कैपिटल को हिस्सों में बांट देता है यही हिस्से कहलाते हैं शेयर. जैसे किसी कंपनी की कैपिटल 100 रुपये है. अब कंपनी इसे 100 हिस्सों में बांट दें तो वे 100 हिस्से शेयर्स कहलाएंगे और एक शेयर एक रुपये का होगा. अब इसी कैपिटल को दो या 5 हिस्सों में भी बांटा जा सकता है. यानी कंपनी की एक यूनिट एक शेयर के बराबर होती है.

अब आप किसी कंपनी का हिस्सा बनना चाहते हैं तो उसके शेयर खरीद सकते हैं. इन्हीं शेयर्स की जब आप खरीदी बिक्री करने जिस बाजार में जाएंगे उसे कहते हैं शेयर बाजार.

2. शेयर खरीदने के लिए क्या करना होगा?

शेयर बाजार में पांव रखने से पहले आपको चाहिए डिमैट अकाउंट. जैसे बैंक में बचत, एफडी में निवेश के लिए बैंक अकाउंट चाहिए वैसे ही शेयर मार्केट में निवेश के लिए डिमैट अकाउंट होना जरूरी है. डीमैट के जरिए ही शेयर्स को खरीदा-बेचा जाता है, होल्ड किया जाता है. यह एक तरह से शेयर्स का डिजिटल अकाउंट है.

3. डीमैट अकाउंट क्या है

डीमैट अकाउंट मतलब- डीमटेरियलाइज्ड यानी किसी भी फिजिकल चीज का डिजिटलाइज होना. डिमैट अकाउंट आप चंद सैकेंड में खोल सकते हैं. आधार कार्ड, पैन कार्ड जैसी केवाईसी डॉक्यूमेंट लगती हैं. इसके लिए ब्रोकर की जरूरत होती है. अब ब्रोकर कोई व्यक्ति भी हो सकता है और कंपनी भी. ब्रोकर की वेबसाइट या एप पर जाकर डिमैट अकाउंट आसानी से खोला जा सकता है. अगर आप नेटबैंकिंग करते हैं तो आपके बैंक की वेबसाइट या एप पर भी डिमैट अकाउंट खोल सकते हैं. आमतौर पर इसकी लिए कोई फीस नहीं देनी होती लेकिन यह कंपनी पर निर्भर करता है कि वे डिमैट के लिए कितना वसूलना चाहते हैं.

4. किस कंपनी का शेयर खरीदें?

जवाब है किसी अच्छी कंपनी है, क्योंकि अच्छी कंपनी के शेयर्स अच्छा रिटर्न देते हैं. अच्छी कंपनी मतलब जिसका प्रॉफिट, प्रोडक्ट, भविष्य अच्छा हो. शेयर मार्केट की भाषा में इसे कंपनी के फंडामेंटल्स यानी बुनियादी बातें कहते हैं, कंपनी के फंडामेंटल्स अच्छे हैं तो कंपनी का भविष्य अच्छा माना जाता है. इसके लिए आपको कंपनी की सालाना बैलेंस शीट पर नजर रखनी होती है. यानी कंपनी कितना कमा रही है, कितना कर्ज है, कितना मुनाफा हो रहा है? कंपनी के शेयर्स ने पहले कैसा प्रदर्शन किया है. ये सब देखना होता है. कई बार खबरें भी कंपनी के शेयर्स को प्रभावित करती हैं. जैसे कि जब दुनिया के सबसे अमीर आदमी ईलॉन मस्क ने ट्विटर को खरीदने का ऐलान किया तो निवेशकों में ट्विटर के शेयर्स को खरीदने की होड़ लग गई. लेकिन निवेशक केवल कंपनी के फंडामेंटल्स पर ध्यान दें तो भी काम बन सकता है. सबसे पहले ऐसे शेयर में निवेश करें जो सुरक्षित हैं. यानी उन बड़ी कंपनियों के शेयर्स खरीदें जो दशकों पुरानी हैं, प्रॉफिट में रहती है और आगे भी रहेंगी. इससे आप नुकसान में नहीं रहेंगे. जब इसमें निवेश कर लें तो शेयर्स को स्टडी करना सीखें, कंपनी की बैलेंस शीट पढ़ना सीखें.

5. प्राइमरी मार्केट और सेकेंडरी मार्केट क्या है?

जब आप कोई शेयर सीधे कंपनी से खरीदते हैं जैसे की आईपीओ के जरिए.. यह प्राइमरी मार्केट है. यानी कंपनियां जो शेयर्स बाजार में इश्यू करती है. लेकिन जब सीधे कंपनी से खरीदे हुए शेयर्स को आप अन्य खरीदारों में बेचने जाते हैं तो वो सेकेंड्री मार्केट है. यानी इश्यू किए हुए शेयर्स की जब खरीद बिक्री होती है.

6. ट्रेडिंग या निवेश?

एक्सपर्ट कहते हैं कि 5 साल, 10 साल या उससे भी ज्यादा समय के लिए निवेश करने वाले फायदे में रहते हैं. यानी लॉन्ग टर्म इंवेस्टमेंट. अब शेयर बाजार को गहनता से समझने वाले और रिस्क उठा सकने वाले ही शॉर्ट टर्म या हर रोज शेयर बाजार में निवेश कर सकते हैं. कितना और कितने समय के लिए निवेश? अब सबसे पहले आप ये तय करें कि निवेश कितना करना है और कितने समय के लिए. फिर तय करें कि आप निवेश करना क्यों चाहते हैं यानी कि आपका उद्देश्य क्या है. जैसे, शिक्षा, शादी या घर खरीदने जैसे गोल्स. इसी अनुसार आप आगे बढ़ते हैं और तभी आप फैसला ले पाएंगे कि आपको किस शेयर में निवेश करना है. शेयर मार्केट में शुरुआत धीमी रखें.

7. शेयर बाजार नहीं समझते हैं तो कैसे निवेश करें?

अगर आपके पास इन सब के लिए समय नहीं है या समझ नहीं है तो ऐसी स्थिति में आप किसी फाइनेंशियल एक्सपर्ट से ही सलाह लें, एक्सपर्ट को बताएं कि आप कितना खर्च करना चाहते हैं और कितने समय के लिए. आपका निवेश का उद्दश्य क्या है और आप निवेश से कितने रिटर्न की अपेक्षा रखते हैं. एक उपाय म्यूचुअल फंड भी हैं. जिसमें कुछ एक्सपर्ट आपके जैसे कई निवशकों के पैसे को कहां लगाना है ये तय करते हैं.

Share Market: किसी ने कमाए करोड़ों- इसपर न जाएं, अपनी अक्ल लगाएं

Share Market: किसी ने कमाए करोड़ों- इसपर न जाएं, अपनी अक्ल लगाएं

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Share Market Today : बाजार में आज भी तेजी के आसार, किन शेयरों में पैसे लगाकर कमा सकते हैं मुनाफा?

सेंसेक्‍स पिछले सत्र में 418 अंकों की तेजी के साथ बंद हुआ था.

सेंसेक्‍स पिछले सत्र में 418 अंकों की तेजी के साथ बंद हुआ था.

Today Share Market News : भारतीय शेयर बाजार अभी पूरी तरह बुल पर सवार है और राह में आने वाली सभी चुनौतियों को पीछे छोड़त . अधिक पढ़ें

  • News18 हिंदी
  • Last Updated : December 01, 2022, 07:25 IST

हाइलाइट्स

सेंसेक्‍स पिछले कारोबारी सत्र में 418 अंक चढ़कर 63,100 पर बंद हुआ.
निफ्टी 140 अंकों की तेजी के साथ 18,758 पर बंद हुआ था.
पिछले कारोबारी सत्र में विदेशी निवेशकों ने बाजार में 9,010.41 करोड़ लगाए.

नई दिल्‍ली. भारतीय शेयर बाजार (Share Market) में तेजी का सिलसिला इस सप्‍ताह लगातार चौथे कारोबारी सत्र में भी जारी रहने का अनुमान है. ग्‍लोबल मार्केट में दिख रही बढ़त का असर आज घरेलू निवेशकों के सेंटिमेंट पर भी दिखेगा और वे शुरुआत से ही खरीदारी की ओर जा सकते हैं. सेंसेक्‍स पहले ही 63 हजार के ऐतिहासिक स्‍तर को पार कर चुका है.

सेंसेक्‍स पिछले कारोबारी सत्र में 418 अंक चढ़कर 63,100 पर बंद हुआ था, जबकि निफ्टी 140 अंकों की तेजी के साथ 18,758 पर बंद हुआ था. एक्‍सपर्ट का कहना है कि आज के कारोबारी सत्र में भी बाजार बढ़त बनाने के मूड में है. निवेशकों का सेंटिमेंट अभी पॉजिटिव चल रहा है. साथ ही आज ग्‍लोबल मार्केट में भी तेजी नजर आ रही है, जिससे निवेशकों को और बूस्‍ट मिलेगा. हालांकि, एक्‍सपर्ट ने सावधान किया है कि अभी बाजार ओवरवैल्‍यूड हो गया है और इसमें कभी भी करेक्‍शन आने की गुंजाइश है.

अमेरिका और यूरोपीय बाजारों में तेजी
अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व के मुखिया जेरोम पॉवेल के बयान से वहां के शेयर बाजारों में तेजी दिख रही है. पॉवेल ने कहा है कि वे आगे भी ब्‍याज दरें बढ़ाएंगे लेकिन शेयर बाजार में सुरक्षित यह बढ़ोतरी अब कम होगी. इसके बाद वॉल स्‍ट्रीट पर खरीदारी दिखी और पिछले सत्र में S&P 500 में 3.09% का जबरदस्‍त उछाल दिखा. वहीं, Nasdaq 4.41% तो Dow Jones 2.18% की बढ़त बनाने में कामयाब रहा.

अमेरिका की तर्ज पर यूरोपीय बाजारों में भी पिछले कारोबारी सत्र के दौरान उछाल दिखा और यूरोप के सभी प्रमुख शेयर बाजार बढ़त पर बंद हुए. जर्मनी का स्‍टॉक एक्‍सचेंज पिछले सत्र में 0.29 फीसदी की बढ़त बनाने में कामयाब रहा तो फ्रांस के शेयर बाजार में 1.04 फीसदी का उछाल दिखा और लंदन स्‍टॉक एक्‍सचेंज भी 0.81 फीसदी की बढ़त पर बंद हुआ.

एशियाई बाजारों में भी उछाल
एशिया के ज्‍यादातर शेयर बाजार आज सुबह बढ़त पर खुले और हरे निशान पर कारोबार कर रहे हैं. सिंगापुर स्‍टॉक एक्‍सचेंज पर 0.30 फीसदी की बढ़त दिख रही तो जापान का निक्‍केई 1.06 फीसदी के उछाल पर कारोबार कर रहा है. हांगकांग का शेयर बाजार 2.48 फीसदी की बढ़त बना चुका है तो ताइवान के बाजार में 1.64 फीसदी का उछाल दिख रहा है. आज दक्षिण कोरिया का कॉस्‍पी भी 0.71 फीसदी की बढ़त पर कारोबार कर रहा है.

इन शेयरों पर दांव लगाना बेहतर
एक्‍सपर्ट का मानना है कि आज के कारोबार में कई ऐसे स्‍टॉक होंगे जिन पर दांव लगाना सुरक्षित रहेगा. ऐसे शेयरों को हाई डिलीवरी पर्सेंटेज वाले स्‍टॉक की श्रेणी में रखा जाता है. आज इस श्रेणी के स्‍टॉक्‍स में ITC, HDFC Bank, Alkem Laboratories, Ipca Laboratories और Voltas जैसी कंपनियां शामिल हैं.

विदेशी निवेशकों ने जमकर लगाए पैसे
भारतीय पूंजी बाजार में तेजी का लाभ इस समय विदेशी निवेशकों को भी मिल रहा है और वे लगातार पैसे लगा रहे हैं. पिछले कारोबारी सत्र में विदेशी निवेशकों ने बाजार में 9,010.41 करोड़ रुपये लगाए, जबकि इसी दौरान घरेलू संस्‍थागत निवेशकों ने 4,056.40 करोड़ रुपये के शेयरों की बिकवाली की है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

रेटिंग: 4.82
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 772
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *