ट्रेड फोरेक्स

Dividend क्या होता है?

Dividend क्या होता है?
Dividend क्या होता है – Dividend Meaning In Hindi

Dividend क्या होता है?

Dividend meaning in Hindi : Get meaning and translation of Dividend in Hindi language with grammar,antonyms,synonyms and sentence usages by ShabdKhoj. Know answer of question : what is meaning of Dividend in Hindi? Dividend ka matalab hindi me kya hai (Dividend का हिंदी में मतलब ). Dividend meaning in Hindi (हिन्दी मे मीनिंग ) is लाभांश.English definition of Dividend : that part of the earnings of a corporation that is distributed to its shareholders; usually paid quarterly

Tags: Hindi meaning of dividend, dividend meaning in hindi, dividend ka matalab hindi me, dividend translation and definition in Hindi language by ShabdKhoj (From HinKhoj Group).dividend का मतलब (मीनिंग) हिंदी में जाने |

डिविडेंड क्या होता है? – Dividend Meaning In Hindi

Dividend क्या होता है – Dividend meaning in Hindi , Dividend kya hai in Hindi, ,Dividend Kaise le ,- दोस्तों यदि आप शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करते हो तो आपने वहां पर कंपनी के डिविडेंड के बारे में तो सुना ही होगा यदि आप इसके मतलब को नहीं जानते हो तो आपके लिए बहुत ही अच्छा होने वाला है आज हम इस लेख में जानने वाले हैं कि dividend kya hai in hindi , dividend ka hindi name ,dividend yield in india dividend ke fayde in hindi ,dividend in hindi meaning चलिए जानते हैं

दोस्तों अक्सर हम जब भी शेयर मार्केट में पैसा लगाते हैं या इन्वेस्ट करते हैं तो हम एक अच्छे रिटर्न की आस रखते हैं और कई लोग तो अच्छा इनकम कमाने के लिए ट्रेडिंग भी करते हैं और अपने पैसे को क्रिप्टोकरंसी या फॉरेक्स एक्सचेंज में लगाते हैं शेयर मार्केट सेबी के रूल एंड रेगुलेशन में चलता है

Dividend क्या होता है – Dividend meaning in Hindi – अक्सर कई लोग चलाना फिक्स रिटर्न पाने के लिए अपने पैसों की FD अर्थात फिक्स्ड डिपॉजिट कराते हैं, कई सारे लोग म्युचुअल फंड्स में भी इन्वेस्टमेंट करते हैं और कई सारे लोग एक लंबे समय के लिए अपने पैसों को इन्वेस्ट कर देते Dividend क्या होता है? हैं ताकि लंबे समय तक उन पैसों से एक अच्छा रिटर्न आता रहे और वह पैसे काम पर भी लगे रहे

Dividend क्या होता है - Dividend Meaning In Hindi

Dividend क्या होता है – Dividend Meaning In Hindi

Dividend क्या होता है – Dividend Meaning In Hindi

डिविडेंड को हिंदी में लाभांश कहते है। जब भी किसी कंपनी को अपने व्यापार से अतिरिक्त लाभ होता है तो उस लाभ में से एक छोटा सा हिस्सा अपने शेयर धारकों में बाँट देती है जिसे Dividend (लाभांश) कहते है।


लाभांश यानि लाभ का एक छोटा सा अंश। जब कंपनी अपने लाभ के हिस्से को अपने शेयर धारकों को बांटती है तो उसे लाभांश कहते है। डिविडेंड किसी व्यक्ति के पास कंपनी के कुल कितना शेयर्स है उस आधार पर दिया जाता है

मान लीजिये आपके पास ITC के 100 शेयर है और ITC अपने एक शेयर पर 5 रुपये का लाभांश दे रही है तो आपको (100 * 5)= 500 रुपये का लाभांश मिलेगा।( Meaning Of Dividend In Hindi )

Dividend क्या होता है | Dividend Meaning in Hindi

स्टॉक मार्केट की दुनिया में कुछ ऐसी कंपनियां मौजूद हैं जो निवेशकों को टाईम-टाइम पर अपने मुनाफे में से कुछ हिस्सा देती हैं. लाभ के रूप में मिलने वाला यही हिस्सा डिविडेंड कहलाता है. ऐसी कंपनियों के शेयरों को Dividend yield स्टॉक कहा जाता है. हालांकि ये डिविडेंड देना या ना देना किसी भी कंपनी का खुद का फैसला होता है. ये नियम अनिवार्य नहीं है. पीएसयू (PSU =Public Sector Undertaking) सेक्टर की कंपनियां अधिकतर अपने शेयरहोल्डर्स को डिविडेंड देती हैं।

डिविडेंड से कैसे प्रॉफिट होता है ?

शेयर में निवेश करके मुनाफा कमाने के दो तरीके होते हैं। आपको तब लाभ होगा जब शेयरों में तेजी आएगी. और दूसरा बात यह है कि कंपनी को जो भी लाभ हो रहा है, कंपनी उसी लाभ को कुछ हिस्सा में आपको देगी. शेयरों में हमेशा उतार-चढ़ाव आता रहता है. जब बाजार गिरता है तो निवेशक अपने शेयर बेचने लगते हैं, इससे शेयरों के दाम घट जाते हैं. ऐसे वक्त में अगर आपने किसी डिविडेंड स्टॉक में निवेश कर Dividend क्या होता है? रखा है तो आप ऐसे नुकसान के बीच में भी संभले रह सकते हैं.डिविडेंड को भी बाजार के लिए अच्छा माना जाता है. डिविडेंड मिलने से बाजार का सेंटीमेंट पॉजिटिव बना रहता है. अगर आप ऐसी किसी कंपनी में निवेश करते हैं जो ज्यादा डिविडेंड देती है तो, आप अपने शेयर बेचे बिना भी अच्छी खासी इनकम कर सकते हैं।

डिविडेंड कब मिलता है ?

कंपनियों पर Depend करता है कि वह डिविडेंड कब आपको देती हैं, कितना देती हैं और कितनी बार देती हैं. कुछ कंपनियां साल में एक बार तो कुछ तो दो-तीन बार भी डिविडेंड देती हैं. डिविडेंड प्रति शेयर के आधार पर दिया जाता है. वित्त वर्ष के अंत में कंपनी अपने मुनाफे में से टैक्स और दूसरे खर्चों का पैसा अलग करने के बाद जो शुद्ध मुनाफा बनता है, उसमें से प्रॉफिट को अपने शेयरहोल्डर्स को शेअर क्वांटिटी अनुसार बॉट देती है।

INTERIM DIVIDEND :

कंपनी शेयर होल्डर को कभी भी डिविडेंड दे सकती हैं. कंपनी अगर अच्छी मुनाफा Quarter कमाई कर रहा है। तो हो सकता है की कंपनी मुनाफा का कुछ हिस्सा शेयरहोल्डर के साथ Interim Dividend के रूप में घोषणा करे। आम तौर पर तिमाही रिजल्ट के बाद ही डिविडेंड घोषित होता हैं। इसे देने के लिए Annual General Meeting कोई भी जरुरत नहीं पड़ती।

Final Dividend :

फाइनल डिविडेंड जैसा की आपको नाम से ही पता लग जाता है की अंतिम बार मिलने वाला डिविडेंड। Final Dividend किसी भी शेयर होल्डर को तब मिलता है। जब Financial year खत्म होने के बाद AGM (Annual General Meeting) में ये घोषित किया जाता है सारे इक्विटी शेयरहोल्डर को डिविडेंड मिलने वाला हैं। मतलब जब कंपनी को उस साल में कितना प्रॉफिट हुआ ये पता चल जाता है तब कंपनी Final Dividend की घोषणा करता हैं। इस डिविडेंड को कंपनी साल में एक बार ही दे सकती हैं।

डिविडेंड का फार्मूला :

Dividend = Current share price × dividend yield × number of shares

जब हम शेयर मार्केट में निवेश करते हैं तो दो तरीका से पैसे कमाए जा सकता हैं ।

  • स्टॉक का प्राइस बढ़ने से
  • डिविडेंड के रूप में

1) स्टॉक का प्राइस बढ़ने से प्रॉफिट :

जब हम शेअर मार्केट में Dividend क्या होता है? निवेश करते है और जब स्टॉक का प्राइस तेजी से बढ़ता है तो हमे प्रॉफिट होता है।

2) डिविडेंड के रूप में :

जब आप स्टॉक मार्केट में एक स्टॉक पर बड़ा अमाउंट निवेश करते हैं तो यही उम्मीद रखते हैं कि आपको अच्छा खासा लाभ हो। और यदि मुनाफा दो रास्तों से आए तो फिर बात ही क्या है. इसे कहते हैं डबल बेनिफिट प्राप्त करना । स्टॉक मार्केट में ऐसे कई स्टॉक मौजूद हैं जिनसे आप ऐसा फायदा उठा सकते हैं. कुछ ऐसी कंपनियां हैं जो अपने निवेशकों को अलग-अलग समय पर अपने मुनाफे से कमाया हुआ जो कुछ रुपए देती है वह कंपनी हमे डिविडेंड (Dividend) देती हैं. इनके स्टॉक में निवेश कर निवेशक अच्छा खासा लाभ कमा सकते हैं। डिविडेंड क्या होता है, इसके बारे मे विस्तार से जानते हैं।

Dividend से जुड़ी 4 महत्वपूर्ण दिन :

स्टॉक मार्केट में निवेश करने वाले लोगो डिविडेंड से जुड़ी 4 महत्वपूर्ण दिन को जरुर जाना चाहिए। ताकि अगर आपको किसी शेयर में डिविडेंड मिलना है तो सरलता समझ सके क्या आप डिविडेंड के लिए समर्थ हो या नहीं।

1) Declaration Date :-

Board of Director डिविडेंड को मंजूर और घोषणा करते है की इस साल वो कंपनी Dividend पेमेंट करने वाले हैं। इस दिन ही कितने रुपये का डिविडेंड देंगे, कब देगा बताया जाता हैं।

2) Ex- Dividend Date:-

रिकॉर्ड दिन के 2 दिन पहले को Ex Dividend Date कहते हैं। जो शेयरहोल्डर इस दिन के बाद शेयर खरीद लेते है उसको डिविडेंड नहीं मिलता हैं। इसका मतलब आपको Dividend चाहिए तो Ex Dividend Date से पहले ही आपको शेअर खरीदना चाहिए।

3) Record Date :-

इस दिन कंपनी घोषणा करता है की कौन सा शेयरहोल्डर योग्य है और कौन नहीं। जिस भी Shareholder का नाम रिकॉर्ड दिन तक होता है उसे कंपनी Dividend पेमेंट करता ही हैं। Dividend क्या होता है? अगर कोई निवेशक रिकॉर्ड दिन ही शेयर खरीदता है तो वो डिविडेंड के लिए योग्य नहीं हैं।

4) Payment Date :

इस दिन कंपनी सारे योग्य इन्वेस्टर को Dividend वितरित करता हैं। ज्यादातर पेमेंट दिन AGM(Annual General Meeting) के 30 दिन बाद आता हैं।

उदाहरण :

Vedanta कंपनी का Dividend डाटा :

निष्कर्ष :

आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको पता चल गया होगा कि डिविडेंड क्या है, के बारे में सभी जरूरी बातें पता चल सके। साथ की पूरी जानकारी विस्तार से देने की कोशिश की है। मैं आशा करता हूं आपको इस पोस्ट से डिविडेंड क्या होता है (what is dividend in hindi) के बारे में बहुत कुछ जानने को मिला होगा और कुछ ऐसी चीजें पता चली होगी जो आपको पहले नहीं पता थी ।अगर आपके मन में डिविडेंड से रिलेटेड कोई भी सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर पूछें।

सबसे अच्छा डिविडेंड देने वाली कंपनी कोन है?

Indian oil company देती है, जोकि 12.08% year डिविडेंड देती है।

डिविडेंड देने वाली कंपनी कोन है?

Indian oil =12.08%
Hindustan Unilever limited = 8.36%
coal India limited = 6.65%
Gail। = 7.52%
NMDC। = 12.96%
REC = 11.38%
ONGC। = 7.57%
Power Grid = 5.37%

IRCTC Dividend: आज एक्स डिविडेंड हो रही है आईआरसीटीसी, निवेशकों को होगा प्रति शेयर इतने रुपये का फायदा

IRCTC Dividend: इंडियन रेलवे (Indian Railways) में कैटरिंग सर्विस देने वाली कंपनी आइआरसीटीसी अपने निवेशकों डिविडेंड देने जा रही है। कंपनी की तरफ से 19 अगस्त की तारीख को रिकाॅर्ड डेट तय किया गया है।

IRCTC Dividend: आज एक्स डिविडेंड हो रही है आईआरसीटीसी, निवेशकों को होगा प्रति शेयर इतने रुपये का फायदा

IRCTC Dividend: शेयर बाजार (Stock Market) में अलग-अलग कंपनियों की तरफ से डिविडेंड (Dividend) देने का ऐलान किया जा रहा है। इंडियन रेलवे (Indian Railways) में कैटरिंग सर्विस देने वाली कंपनी आइआरसीटीसी (IRCTC) भी अपने निवेशकों डिविडेंड देने जा रही है। कंपनी की तरफ से 19 अगस्त की तारीख को रिकाॅर्ड डेट तय किया गया है। यानी, बाजार में कंपनी 18 अगस्त को एक्स डिविडेंड हो जाएगी। आइए जानते हैं योग्य इंवेस्टर्स को कितने रुपये का डिविडेंड मिलेगा।

शेयर होल्डर्स को 75% का डिविडेंड देगी कंपनी

कंपनी की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार योग्य शेयरधारकों को 75% का डिविडेंड मिलेगा। 30 मई को कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की बैठक में तय हुआ था कि 2 रुपये के फेस वैल्यू वाले शेयर पर 1.Dividend क्या होता है? 50 रुपये का डिविडेंड दिया जाएगा। कंपनी ने इसके लिए रिकाॅर्ड डेट (IRCTC Dividend Record Date) 19 अगस्त 2022 तय किया है।

कब होगा IRCTC के डिविडेंड का भुगतान

आइआरसीटीसी ने रेगुलेटरी को दी जानकारी में बताया है कि डिविडेंड का भुगतान कंपनी की तरफ से एनुअल जनरल मीटिंग से 30 दिन के अंदर कर दिया जाएगा। कंपनी की एजीएम 26 अगस्त को होने जा रही है। बता दें, पिछले एक महीने में NSE में आइआरसीटीसी ने अपने निवेशकों 10.51% का रिटर्न दिया है। मंगलवार को कंपनी के शेयर 667.50 रुपये पर बंद हुए थे।

20% चढ़ गए क्रैक्स बनाने वाली कंपनी के शेयर, इस वजह से शेयरों में लगा अपर सर्किट

पहली तिमाही में कैसा रहा Dividend क्या होता है? प्रदर्शन?

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में कंपनी का नेट प्राॅफिट 198% बढ़कर 242.52 करोड़ रुपये रहा है। पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में कंपनी को 82.52 करोड़ रुपये का नेट प्राॅफिट हुआ था। सेगमेंट के हिसाब से देखें तो सभी बिजनेस में ग्रोथ देखने को मिली है।

क्या होता है रिकाॅर्ड डेट और पेमेंट डेट में फर्क?

रिकाॅर्ड डेट और पेमेंट डेट दोनों एक दूसरे से अलग हैं। रिकाॅर्ड डेट वह तारीख है जिसके आधार पर कंपनी डिविडेंड के लिए शेयरधारकों की योग्यता तय करती है। यानी इस दिन के बाद कंपनी के शेयर खरीदने वाले इंवेस्टर्स को डिविडेंड नहीं मिलेगा। पेमेंट डेट एजीएम के अप्रूवल के बाद तय किया जाता है।

लाइव मिंट

(डिस्‍क्‍लेमर: यहां सिर्फ शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है, यह निवेश की सलाह नहीं है। शेयर बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन है और निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें।)

रेटिंग: 4.27
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 115
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *