ट्रेड फोरेक्स

दिवाली 2023 पर मुहूर्त ट्रेडिंग रणनीति

दिवाली 2023 पर मुहूर्त ट्रेडिंग रणनीति
की जाती है स्‍पेशल शेयर ट्रेडिंग
दिवाली के साथ नए साल की शुरुआत भी होती है. इस बार दिवाली के साथ संवत् 2077 शुरू होने जा रहा है. भारतीय परंपरा के अनुसार देश के कई हिस्सों में दिवाली के साथ ही नए वित्त वर्ष की शुरुआत भी होती है. इस शुभ मुहूर्त पर शेयर बाजार के कारोबारी स्पेशल शेयर ट्रेडिंग करते हैं. इसलिए इसे मुहूर्त ट्रेडिंग भी कहा जाता है.

Muhurat Trading 2022 : शेयर बाजार में कब होगी मुहूर्त ट्रेडिंग, यहां पाएं अलग-अलग सेगमेंट में ट्रेडिंग की पूरी जानकारी

Published: October 12, 2022 2:46 PM IST

Muhurat Trading Timing on Diwali

Muhurat Trading 2022 : शेयर बाजार (NSE और BSE) 24 अक्टूबर 2022 को दिवाली मुहूर्त ट्रेडिंग के लिए एक घंटे के लिए खुलेंगे. BSE और NSE पर दी गई जानकारी के मुताबिक, इक्विटी, इक्विटी और डेरिवेटिव सेगमेंट में ट्रेडिंग शाम 6 बजे शुरू होगी और एक घंटे 15 मिनट के बाद शाम 7:15 बजे समाप्त होगा. प्री-ओपन सेशन शाम 6:00 बजे शुरू होगा और शाम 6:08 बजे खत्म होगा. मुहूर्त ट्रेडिंग सत्र में मिलान का समय शाम 6:08 बजे से शाम 6:15 बजे तक होगा.

Also Read:

हालांकि, कॉल ऑक्शन में ट्रेड मॉडिफिकेशन शाम 7:45 बजे खत्म हो जाएगा. दिवाली 2022 मुहूर्त ट्रेडिंग सत्र में भारतीय शेयर बाजार में निष्पादित सभी ट्रेडों के परिणामस्वरूप निपटान दायित्व होगा.

कमोडिटी डेरिवेटिव सेगमेंट में मुहूर्त ट्रेडिंग दिवाली 2022 सत्र भी शाम 6:15 बजे शुरू होगा और शाम 7:15 बजे समाप्त होगा. हालांकि, ट्रेड मॉडिफिकेशन शाम 7:25 बजे तक उपलब्ध होगा.

मुद्रा डेरिवेटिव सेगमेंट में भी, मुहूर्त ट्रेडिंग 2022 का समय शाम 6:15 बजे से शाम 7:15 बजे तक होगा और मुद्रा डेरिवेटिव और आईआरडी में व्यापार संशोधन शाम 7:25 बजे तक संभव होगा.

क्रॉस करेंसी डेरिवेटिव्स में ट्रेड मॉडिफिकेशन भी शाम 7:25 बजे तक उपलब्ध रहेगा. व्यापार रद्द करने का अनुरोध शाम 7:30 बजे तक किया जा सकता है.

सिक्योरिटीज लेंडिंग एंड बॉरोइंग सेगमेंट (SLB) सेगमेंट में, दिवाली 2022 पर मुहूर्त ट्रेडिंग का समय शाम 6:15 बजे से शाम 7:15 बजे तक होगा.

Muhurat Trading: दिवाली के दिन खास समय पर मिलेगा तगड़ी कमाई का मौका, जानें मोटे फायदे के लिए क्या करें?

इस बिजनेस से आप बंपर कमाई कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated : November 02, 2021, 16:38 IST

नई दिल्ली. दिवाली के दिन शेयर बाजार (Stock Market) के लिए बेहद खास होता है. इस दिन वैसे तो मार्केट बंद रहता है लेकिन इस दिन एक घंटे के लिए मुहूर्त ट्रेडिंग का आयोजन (Muhurat trading session 2021) किया जाता है. इस दौरान केवल 1 घंटे के लिए बाजार में ट्रेडिंग (trading) होती है. इस एक घंटे में निवेशक अपना छोटा निवेश करके बाजार की परंपरा को निभाते हैं.

अगर आप पैसे कमाने या निवेश करने के बारे में सोच रहे हैं तो आप इस दिन पैसे लगा सकते हैं. यह दिन काफी शुभ माना जाता है. बता दें कि इस बार 4 नवंबर 2021 को दीपावली के दिन NSE और BSE पर शाम 6:15 से 7:15 मुहूर्त ट्रेडिंग होगी. दोनों एक्सचेंज के मुताबिक, दिवाली के दिन मुहूर्त ट्रेडिंग शाम 6:00 से 6:08 बजे प्री-ओपन ट्रेडिंग सेशन होगा. इसके बाद शाम 6:15 से 7:15 बजे मुहूर्त ट्रेडिंग होगी. आइए जानते हैं इसके मुहूर्त ट्रेडिंग के बारे में सबकुछ…

Diwali Muhurat Trading: जानिए क्या होती है मुहूर्त ट्रेडिंग, क्यों इस दिन हर कोई चाहता है शेयर खरीदना!

Diwali Muhurat Trading: जानिए क्या होती है मुहूर्त ट्रेडिंग, क्यों इस दिन हर कोई चाहता है शेयर खरीदना!

दिवाली के दिवाली 2023 पर मुहूर्त ट्रेडिंग रणनीति दिन शाम को शेयर बाजार में मुहूर्त ट्रेडिंग होती है. तमाम निवेशक शगुन के लिए कुछ शेयर खरीदते हैं. अधिकतर निवेशक इस दिन शेयरों को खरीदकर उसे लंबे समय तक अपने पास रखते हैं.

शेयर बाजार (Share Market) के लिए ये हफ्ता बहुत ही शानदार साबित हुआ है. इस हफ्ते सेंसेक्स में 1387 अंकों की तेजी देखने को मिली है. हफ्ते के आखिरी दिन में सेंसेक्स 104 अंक चढ़ा है. त्योहारों के चलते इस महीने में शेयर बाजार कई दिन बंद रहेगा. इसी बीच कई लोगों के मन में ये सवाल भी है कि क्या दिवाली (Diwali) को शेयर बाजार बंद रहेगा (Share Market on Diwali) या फिर उस दिन मार्केट खुलेगा? आपको बता दें कि 24 अक्टूबर को दिवाली पर छुट्टी की वजह से सामान्य घंटों में तो शेयर बाजार बंद रहेगा, लेकिन शाम तो 1 घंटे की मुहूर्त ट्रेडिंग के लिए खुलेगा. आइए समझते हैं क्या है मुहूर्त ट्रेडिंग (Diwali Muhurat Trading) और क्यों की जाती है.

क्या है मुहूर्त ट्रेडिंग?

जैसा कि नाम से ही काफी हद तक समझ आ रहा है कि यह किसी तरह का मुहूर्त है. दरअसल, दिवाली पर लोग खरीदारी को शुभ मानते हैं. वहीं शेयर बाजार का तो पूरा कारोबार ही खरीद-फरोख्त का है. ऐसे में दिवाली पर लोग मुहूर्त ट्रेडिंग में सिर्फ शगुन के लिए खरीदारी करते हैं. वैसे तो बहुत से लोग इस दिन मुनाफा भी काटने की कोशिश करते हैं, लेकिन अधिकतर लोग मुहूर्त ट्रेडिंग को सिर्फ शगुन के लिए खरीददारी की तरह देखते हैं. शेयर बाजार में रेगुलर पैसे लगाने वाले निवेशक मुहूर्त ट्रेडिंग पर शगुन के तौर पर शेयर खरीद कर उन्हें अपने पोर्टफोलियो में रखते हैं. माना जाता है कि इस दौरान शेयर खरीदने वालों को साल भर लाभ मिलता है. मुहूर्त ट्रेडिंग दिवाली की शाम 6.15 से 7.15 तक यानी 1 घंटे होती है.

शेयर बाजार में दिवाली के दिन शाम को एक घंटे मुहूर्त ट्रेडिंग करने की परंपरा एक दो साल नहीं बल्कि करीब 5 दशक पुरानी है. इसकी शुरुआत बीएसई में 1957 में हुई थी, जबकि एनएसई में इसे 1992 से शुरू किया गया. मुहूर्त ट्रेडिंग को पूरी तरह से परंपरा से जोड़कर देखा जाता है.

कई दिवाली 2023 पर मुहूर्त ट्रेडिंग रणनीति निवेशक अगली पीढ़ी तक ले जाते हैं ये शेयर

बहुत सारे ऐसे निवेशक हैं जो मुहूर्त ट्रेडिंग के दिन खरीदे गए शेयरों को अच्छा शगुन मानते हैं और उन्हें कभी नहीं बेचते. वह मानते हैं कि ये शेयर उनके पोर्टफोलियो में बरक्कत के लिए बहुत ही शुभ हैं. ऐसे में वह निवेशक तो मुहूर्त ट्रेडिंग के दिन खरीदे हुए शेयरों को कभी नहीं बेचते हैं. यहां तक कि कुछ तो उन शेयरों को अगली पीढ़ी तक ले जाते हैं.

पिछले साल दिवाली 4 नवंबर 2021 को थी. उस दिन भी शाम को मुहूर्त ट्रेडिंग के लिए शेयर बाजार खुला था. पिछली बार मुहूर्त दिवाली 2023 पर मुहूर्त ट्रेडिंग रणनीति ट्रेडिंग पर शेयर बाजार गुलजार हो गया था. महज एक घंटे के सेशन में ही बीएसई का सेंसेक्स 60 हजार से भी ऊपर चाल गया था. मुहूर्त ट्रेडिंग में बाजार में तगड़ा उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है. पिछली बार बाजार खुला तो 436 अंकों की तेजी के साथ, लेकिन बाद में करेक्ट हुआ और अंत में 295 अंकों की तेजी के साथ 60,067 अंकों के स्तर पर बंद हुआ.

Muhurat Trading 2022: दिवाली के दिन भी मिलेगा कमाई का मौका, जानिए मुहूर्त ट्रेंडिग का समय

Muhurat Trading 2022: दरअसल, दिवाली का दिन मां लक्ष्मी का होता है. इस मौके पर शेयर खरीदना शुभ माना जाता है. यही वजह है कि स्टॉक मार्केट में एक घंटे के लिए कारोबार होता है. फिलहाल एक्सचेंज ने मुहूर्त की टाइमिंग की घोषणा नहीं की है.

Muhurat Trading Diwali Session 2022: वैसे तो दिवाली के दिन (24 अक्टूबर 2022) को स्टॉक मार्केट बंद रहेंगे लेकिन इसके बावजूद निवेशकों को स्टॉक खरीदने का मौका मिलेगा. दरअसल, दिवाली के मौके पर मुहूर्त ट्रेडिंग (Muhurat Trading) के लिए बीएसई (BSE) और एनएसई (NSE) एक घंटे तक खुले रहेंगे. इस मौके पर आप स्टॉक्स की खरीदारी कर सकते हैं. दरअसल, दिवाली का दिन मां लक्ष्मी का होता है. इस मौके पर शेयर खरीदना शुभ माना जाता है. यही वजह है कि स्टॉक मार्केट में एक घंटे के लिए कारोबार होता है.

Muhurat Trading 2022: Date, time from BSE

बीएसई के अनुसार 24 अक्टूबर 2022 यानी सोमवार को दिवाली-लक्ष्मी पूजन के कारण एक्सचेंज बंद रहेगा लेकिन मुहूर्त ट्रेडिंग होगी. फिलहाल एक्सचेंज ने मुहूर्त की टाइमिंग की घोषणा नहीं की है. मुहूर्त ट्रेडिंग का समय बाद में अधिसूचित किया जाएगा. बीएसई ने कहा, एक्सचेंज छुट्टियों में से किसी को भी बदल सकता है, जिसके लिए एडवांस में एक अलग सर्कुलर जारी किया जाएगा.

एनएसई के मुताबिक, 24 अक्टूबर 2022 यानी सोमवार को कैलेंडर वर्ष 2022 के लिए दिवाली 2023 पर मुहूर्त ट्रेडिंग रणनीति दिवाली-लक्ष्मी पूजन के कारण ट्रेडिंग हॉलिडे है. एनएसई ने अपने सर्कुलर में कहा, मुहूर्त ट्रेडिंग सोमवार, 24 अक्टूबर, 2022 को आयोजित की जाएगी. मुहूर्त ट्रेडिंग का समय बाद में अधिसूचित किया जाएगा.

Muhurat Trading Session 2022

प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज बीएसई और एनएसई से 24 अक्टूबर 2022 को दिवाली के अवसर पर एक घंटे का विशेष मुहूर्त ट्रेडिंग सेशन आयोजित करने की उम्मीद है. सेशन के कारोबार का समय बाद में तय किया जाएगा.

दिवाली एक नए संवत की शुरुआत का भी प्रतीक है. हिंदू कैलेंडर वर्ष दिवाली पर शुरू होता है और यह माना जाता है कि मुहूर्त व्यापार पूरे वर्ष समृद्धि और धन लाता है. बीएसई के स्टॉक मार्केट हॉलिडे कैलेंडर के मुताबिक इस दिन इक्विटी, डेरिवेटिव और एसएलबी सेगमेंट में कोई ट्रेडिंग नहीं होगी.

Diwali Muhurat Trading 2022: खुल गई एक घंटे की विंडो, हो रही खरीदारी

Muhurat Trading 2022

Diwali Muhurat Trading 2022: दीपावली के मौके पर परंपरा के मुताबिक एक घंटे की मुहूर्त ट्रेडिंग हो रही है. इसके लिए खास तौर पर 6.15 से 7.15 बजे के बीच ट्रेडिंग विंडो खुली है. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में इस मुहूरत ट्रेडिंग की शुरुआत पूजा पाठ के साथ हुई. इस मौके पर बॉलीवुड एक्टर अजय देवगन भी मौजूद रहे. वो अपनी फिल्म का प्रचार करने के लिए बीएसई पहुंचे. बता दें कि दीपावली के मौके पर बाजार बंद रहते हैं. लेकिन लक्ष्मी पूजा की परंपरा के साथ एक घंटे के लिए मुहूर्त ट्रेडिंग की जाती है.

खास रहता है मुहूर्त ट्रेडिंग

दीपावली के मौके पर मुहूर्त ट्रेडिंग की परंपरा काफी पुरानी है. माना जाता है कि इस दिन ट्रेडिंग करने से साल भर लक्ष्मी माता का आगमन रहता है. बाजार के आंकड़े भी बताते हैं कि मुहूर्त ट्रेडिंग के मौक पर बाजार में काफी तेजी रहती है. बाजार के जानकारों का कहना है कि इस बार के मुहूर्त ट्रेडिंग में बैंकिग, ऑटोमोबाइल सेक्टर और गोल्ड में कारोबार करने वाले अच्छा फायदा पा सकते हैं. इसीलिए ट्रेडर्स की इन सेक्टर पर खास नजर बनी हुई है. आज मुहर्त ट्रेडिंग BSE का सेंसेक्स बढ़त के साथ खुला. जैसे हर साल होता है वैसे ही इस साल भी निवेशक काफी उत्साहित दिखे. निवेशकों और ब्रोकर्स का कहना है कि मुहर्त ट्रेडिंग में मार्किट जिस तरह से बढ़त के साथ खुला है आने वाले दिनों में सेंसेक्स नई ऊंचाई छुएगा.

रेटिंग: 4.14
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 412
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *