ट्रेड फोरेक्स

एक दलाल का वेतन क्या है?

एक दलाल का वेतन क्या है?
कानूनन रिश्वत लेना व देना दोनों बराबर के जुर्म हैं। इस मामले एक दलाल का वेतन क्या है? में उक्त दोनों उच्च शिक्षित एवं पदस्थ लोगों की ऐसी कोई मजबूरी नहीं थी जो वे इतनी मोटी-मोटी रिश्वतें दे रहे थे। वे तो केवल इस रिश्वत को निवेश करके अपने लिये मोटी लूट कमाई का साधन हथियाने की जुगत में एक दलाल का वेतन क्या है? थे, लिहाजा रिश्वत देने वालों के विरुद्ध भी मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिये।
पुलिस सूत्रों से पता चला है कि बहादुरगढ़ पुलिस की मदद से आरोपित नरेन्द्र चौधरी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बख्तियारपुर अंचल कार्यालय के अफसरशाही से निम्न कर्मचारी परेशान।

आज बिहार सरकार के मंत्री एवं विधायक हर जगह प्रचार एवं प्रसार में लगे हुए हैं कि भ्रष्टाचार खत्म हो गया है। लेकिन आज किसी एक दलाल का वेतन क्या है? को यह बताने की जरूरत नहीं है कि बख्तियारपुर अंचलाधिकारी कार्यालय में ऊपर वाले पदाधिकारी नीचे के कर्मचारियों को इस कदर परेशान करते हैं कि हर तरह के काम के लिए नजराना कर्मचारियों से वसूला जाता है

सऊदी अरब में फंसी कोटा की तीन महिलाएं, दी जा रही हैं यातनाएं

कोटा शहर की रहने वाली तीन महिलाएं सऊदी अरब में फंस गई हैं. महिलाएं घरेलू कामकाज के लिए 5 माह पूर्व एक दलाल के माध्‍यम से साऊदी अरब के जेद्दाह गई थी.

कोटा शहर की रहने वाली तीन महिलाएं सऊदी अरब में फंस गई हैं. महिलाएं घरेलू कामकाज के लिए 5 माह पूर्व एक दलाल के माध्‍यम से साऊदी अरब के जेद्दाह गई थी.

कोटा एक दलाल का वेतन क्या है? शहर की रहने वाली तीन महिलाएं सऊदी अरब में फंस गई हैं. महिलाएं घरेलू कामकाज के लिए 5 माह पूर्व एक दलाल के माध्‍यम से साऊदी अरब के जेद्दाह गई थी.

  • News18 हिंदी
  • Last Updated : October 10, 2015, 17:08 IST

कोटा शहर की रहने वाली तीन महिलाएं सऊदी अरब में फंस गई हैं. महिलाएं घरेलू कामकाज के लिए 5 माह पूर्व एक दलाल के माध्‍यम से साऊदी अरब के जेद्दाह गई थी.

वतन वापसी की मांगी जा रही कीमत

परवीन बानो,बेबी और कुलसुम नाम की इन महिलाओं को 15 से 17 हजार रु. प्रतिमाह के वेतन का वादा करके दलालों द्वारा सऊदी भेजा गया और वहां फंसने के बाद अब वतन वापसी के लिए उनसे 80 हजार की मोटी रकम मांगी जा रही है.

महिलाओं के साथ मारपीट

परिजनों के मुताबिक सऊदी के जेद्दाह में फंसी इन महिलाओं से परिजनों का महीनों से संपर्क नहीं हैं और अंतिम समाचारों के मुताबिक वहां उन्हे बुरी तरह से मारा-पीटा जा रहा है. दरअसल, सऊदी गई इन महिलाओं में से एक कर्ज में डूबी थी तो बाकी आर्थिक तंगी से परेशान थी और इसी मजबूरी का फायदा उठाकर दलालों ने इन्हें झांसे में लेकर सऊदी अरब भेज दिया था. पूरे मामले में कोटा के आम आदमी पार्षद मोहम्मद हुसैन अब भारतीय दूतावास और स्थानीय प्रशासन से भी गुहार लगा रहे हैं.

आपके शहर से (कोटा)

Today's Top News | देखिए आज की बड़ी खबरें | Pradesh Hamara | Top Headlines | News18 Rajasthan

Latest News | देखिए रात की बड़ी खबरें | Top Night Headlines of Rajasthan | News18 Rajasthan

Top 10 Crime | Top Headlines | अपराध की ख़बरें फटाफट अंदाज़ में एक दलाल का वेतन क्या है? | News18 Rajasthan | Latest News

Mahro Rajasthan | देखिए प्रदेश की प्रमुख खबरें | Rajasthan Big News | Top Headlines | Rajasthan News

जमीन का मुआवजा नहीं मिला तो. उदयपुर-अहमदाबाद रेलवे ट्रैक ब्लास्ट केस में ATS का बड़ा खुलासा

News 18 Prime | देखिए अब तक की बड़ी खबरें | Rajasthan News | Top News | Hindi News | Latest News

5 Minute 33 District | 5 मिनट 33 जिले | Aaj Ki Taaza Khabar | Rajasthan Top News | News18 Rajasthan

Prime 25 | देखिए प्रदेश की 25 बड़ी खबरें | Big Breaking News | Top News Headlines | News18 Rajasthan

पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले का दलाल दिल्ली से गिरफ्तार, अब होंगे बड़े खुलासे

पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले का दलाल दिल्ली से गिरफ्तार, अब होंगे बड़े खुलासे

Update: Monday, May 9, 2022 @ 10:47 PM

शिमला। हिमाचल पुलिस भर्ती (Himachal Police recruitment ) में अब बड़े-बड़े खुलासे हो सकते है। हिमाचल पुलिस की एसआईटी टीम (SIT Team) ने दिल्ली में एक दलाल को गिरफ्तार (Arrest) करने में सफलता पाई है। यह दलाल गगरेट (Gagret) के नकडोह का रहने वाला है। पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में इसकी पूरी संलिप्त होने की आशंका जताई जा रही है। पुलिस (Police) को अंदेशा है कि इस मामले के तार उपमंडल गगरेट से जुटे हो सकते हैं। दलाल के इस क्षेत्र का निवासी होने पर यहां भी अभ्यर्थियों से संपर्क होने की आशंका बढ़ गई है। फिलहाल इस पूरे मामले में एसआईटी व पुलिस मीडिया (Media) से दूरी बनाए हुए है, कोई भी आधिकारिक तौर पर जानकारी देने से बच रहे हैं।

हिमाचल पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में 7 और लोग गिरफ्तार, अब तक 13 अरेस्ट

हिमाचल पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले (Himachal Police Recruitment Paper Leak Case) में रविवार को 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में अब तक 13 लोगों की गिरफ्तार (Arrest) हो चुकी है। इसके अलावा पुलिस ने हमीरपुर जिला से भी तीन लोगों जिसमें एक बाप और बेटा और एक अन्य को शामिल है को हिरासत में लिया है। वहीं मंडी में पुलिस ने 50 के करीब अभ्यर्थियों से पूछताछ की है, जबकि ऊना में छह अभ्यर्थियों व उनके अभिभावकों के अलावा चंबा एक दलाल का वेतन क्या है? के भी एक अभ्यर्थी से पुलिस ने रविवार को पूछताछ की है। इससे पहले जिला ऊना (Una) में शनिवार को भी पुलिस ने करीब एक दर्जन अभ्यर्थियों और उनके अभिभावकों से पूछताछ की थी।

पुलिस द्वारा गठित टीम अब तक 13 लोगों को इस मामले में पकड़ चुकी है। इसके अलावा प्रदेश भर में दर्जनों लोगों से पूछताछ की जा रही है। इस मामले में अब तक गिरफ्तार लोगों में मनी चौधरी पुत्र बीरवल सिंह निवासी खटियाड़ तहसील फतेहपुर जिला कांगड़ा, गौरव पुत्र विजय कुमार गांव व डाकघर भडियाड़ा, मुनीष कुमार पुत्र अशोक कुमार निवासी देवभराड़ी सुल्याली, नूरपुर जिला कांगड़ा, कांगड़ा, अशोक कुमार पुत्र हरि सिंह निवासी पास्सू, कांगड़ा, विशाल पुत्र पवन कुमार निवासी गांव देवभराड़ी सुल्याली, नूरपुर जिला कांगड़ा, पवन कुमार एक दलाल का वेतन क्या है? पुत्र लाल चंद निवासी देवभराड़ी सुल्याली तहसील नूरपुर जिला कांगड़ा और नितेश कुमार पुत्र राम सिंह निवासी स्थाना, फतेहपुर जिला कांगड़ा को गिरफ्तार किया जा चुका है।

क्या होता है Broker

what is the meaning of Broker

ब्रोकर क्या होता है ब्रोकर क्या आप जानते हैं ब्रोकर का असली मतलब क्या होता है तो कर क्या करता है क्या आपको पता है ब्रोकर को हिंदी में क्या कहते हैं आज हम आपको बताएंगे कि ब्रोकर का क्या काम होता है और उसे हिंदी में क्या कहते हैं ब्रोकर को हिंदी में दलाल कहते हैं जो लोगों के काम करवाता है जी हां इसे इंग्लिश में ब्रोकर और हिंदी में दलाल कहा जाता है.

ब्रोकर का काम यह होता है कि वह दोनों पार्टियों के बीच का व्यक्ति होता है वह एक दूसरी पार्टी में डील करवाता है और उनके बीच से कमीशन प्राप्त करता है वही होता है ब्रोकर.

आजकल हर किसी इंडस्ट्री में ब्रोकर फैले हुए हैं चाहे वह रियल स्टेट हो या फिर लाइफ इंश्योरेंस कंपनी या फिर कोई मार्केटिंग कंपनी आजकल हर किसी कंपनी में दलाल फैले हुए हैं चाहे वह सरकारी काम हो या फिर प्राइवेट बिना ब्रोकर के आज के युग में कोई भी कार्य नहीं होगा क्योंकि जब कोई एक पार्टी दूसरे पार्टी को अपना माल बेचती है तो उसको सौदा ब्रोकर ही करवाता है और मैं उसका कुछ प्रतिशत कमीशन लेता है.

इस पोस्ट में इन सवालों का जवाब देने का प्रयास किया गया है.

. life insurance broker kya hota hai.

. false ceiling licence banana hai broker chahiye kolkata.

ऐसी ही बिजनेस से संबंधित खबरों के लिए बने रहिए और पढ़ते रहिए भास्कर जगत न्यूज़

संघ के दलाल करें संघी ‘मितरों’ को भी हलाल

संघ के दलाल करें संघी ‘मितरों’ को भी हलाल

फरीदाबाद (म.मो.) थाना सेक्टर 31 में सत्यवती कॉलेज एक दलाल का वेतन क्या है? दिल्ली के प्रोफेसर तरुण कुमार गर्ग ने पानीपत निवासी किसी नरेन्द्र चौधरी के एक दलाल का वेतन क्या है? विरुद्ध धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है। शिकायत में कहा गया है कि नरेन्द्र ने उन्हें, 2019 में अपनी पार्टी की सरकार आने पर किसी विश्वविद्यालय का एक दलाल का वेतन क्या है? वाइसचांसलर बनवाने के नाम पर 37 लाख रुपये ठग लिये। गर्ग के मुताबिक वह कुल 40 लाख दे चुका था लेकिन नरेन्द्र अभी 10 लाख और मांग एक दलाल का वेतन क्या है? रहा था। जवाब में गर्ग ने कहा कि कुलपति बनने के बाद वह 10 लाख भी दे देगा।

सरकार बनने के बावजूद बहुत दिन तक टाल-मटोल करने के बाद जब गर्ग को कुछ मिलता नजर न आया तो उसने अपने पैसे वापस मांगने शुरू किये। तीन लाख तो वापिस मिल गये, बकाये के 37 लाख लौटाने से इनकार कर दिया तो प्रो. गर्ग को पुलिस की शरण में आना पड़ा।

रेटिंग: 4.76
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 642
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *