ट्रेड फोरेक्स

फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट

फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट
15 दिनों से 29 दिनों की परिपक्वता अवधि वाली जमाओं के लिए, ROI 4% है। 30 दिनों और 90 दिनों के बीच मैच्योर होने वाली FD के लिए ब्याज दर 4.5% है। बैंक 91 दिनों से 179 दिनों तक परिपक्व होने वाली सावधि जमा फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर 5 प्रतिशत की ब्याज दर की पेशकश कर रहा है।

इन बैंकों ने फिक्स्ड डिपॉजिट जमा दरों में संशोधन किया, क्या आप करना चाहते हैं निवेश?

नई दिल्ली: अधिक निवेशकों को आकर्षित करने के लिए, बैंक अपनी फिक्स्ड डिपॉजिट ब्याज दरों में बदलाव कर रहे हैं। FD सबसे सुरक्षित निवेश माध्यमों में से एक है। वरिष्ठ नागरिक और बिना जोखिम के निवेश करने वाले लोग इनमें अपना पैसा लगाना पसंद करते हैं। हाल के दिनों में, पंजाब नेशनल बैंक और भारतीय स्टेट बैंक जैसे वित्तीय संस्थानों ने अपनी FD दरों में संशोधन किया है। अब, तीन बैंकों – इंडसइंड बैंक, सिटी यूनियन बैंक और शिवालिक स्मॉल फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट फाइनेंस बैंक ने अपनी FD दरों में संशोधन किया है।

शिवालिक स्मॉल फाइनेंस बैंक के लिए नई एफडी दरें 19 सितंबर से लागू हो गई हैं। बैंक अब 7 फीसदी तक की ब्याज दरों के साथ फिक्स्ड डिपॉजिट की पेशकश करता है। 7 दिनों से 14 दिनों की परिपक्वता अवधि के साथ 25 लाख रुपये से 2 करोड़ रुपये तक की FD के लिए, ब्याज दर 3.75% है।

इंडसइंड बैंक

संशोधित दरों के अनुसार, इंडसइंड बैंक अब 23 सितंबर से संशोधित ब्याज दर की पेशकश कर रहा है। बैंक अब 7 दिनों से लेकर 61 महीने और उससे अधिक की परिपक्वता वाली FD पर 4% से 6.65% के बीच फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट ब्याज दर प्रदान करता है। 31 दिनों से 45 दिनों में मैच्योर होने वाली एफडी पर ब्याज दर 4.35%, 46 दिनों से 60 दिनों में मैच्योर होने वाली एफडी पर 4.45%, 61 दिनों से 90 दिनों में मैच्योर होने वाली जमा पर 4.65%, 91 दिनों से 120 दिनों में मैच्योर होने वाली जमा पर 5.15% है।

121 दिनों से 180 दिनों तक परिपक्व होने वाली जमाराशियों पर 5.25%, 181 दिनों से 210 दिनों तक परिपक्व होने वाली FD पर 5.55%, 211 दिनों से 269 दिनों तक परिपक्व जमा पर 5.5%, 270 दिनों से 354 दिनों तक परिपक्व जमा पर 5.9%, 355 दिनों से 364 दिनों में मैच्योर होने वाली FD पर 6.15%, 1 साल से 1 साल 6 महीने में मैच्योर होने वाली एफडी पर 6.4% और 1 साल 6 महीने से 61 महीने में मैच्योर होने वाली एफडी पर 7 फीसदी। 61 महीने और उससे अधिक की FD पर, बैंक 6.65% की ब्याज दर की पेशकश कर रहा है।

सिटी यूनियन बैंक

सिटी यूनियन बैंक के लिए नई FD दरें 23 सितंबर, 2022 से लागू हो गई हैं। 15 से 45 दिनों में मैच्योर होने वाली जमाओं पर संशोधित ब्याज दर 4.1% है, 46 और 90 दिनों के बीच मैच्योरिटी वाली fd के लिए 4.5%, 91 और 180 दिनों के बीच परिपक्वता वाली FD पर 5%, 181 से परिपक्व होने वाली FD पर 5.25% है। 271 दिनों से 364 दिनों में परिपक्व होने वाली जमाराशियों पर 5.75%, 365 दिनों से 399 दिनों में परिपक्व होने वाली FD पर 6.15%, 400 दिनों में मैच्योर होने वाली FD पर 6.25%, 401 से 699 दिनों में परिपक्व होने वाली जमा पर 6.25%, 700 दिनों में परिपक्व होने वाली जमा पर 6.3%, 701 से 3 वर्षों में परिपक्व होने वाली FD पर 6.25%, 3 साल से ऊपर 10 साल तक मैच्योर होने वाली जमा पर 6% और पांच साल से ऊपर फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट की जमा पर 6% ब्याज मिलेगी।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

FD में निवेश का लौटा दौर, सेंट्रल बैंक के फिक्स्ड डिपॉजिट पर भी मिलेगा अब ज्यादा ब्याज

बैंकों ने फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दरों में बढ़ोतरी का सिलसिला शुरू कर दिया है.

बैंकों ने फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दरों में बढ़ोतरी का सिलसिला शुरू कर दिया है.

दो साल बाद फिर से एफडी में निवेश का दौर लौटा है. लॉन्ग टर्म की बजाय शार्ट टर्म एफडी में निवेश करने वालों के लिए यह ज्या . अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated : May 11, 2022, 15:23 IST

नई दिल्ली. फिक्स्ड डिपॉजिट (fixed deposit) में निवेश हमेशा से सुरक्षित माना जाता रहा है. निश्चित रिटर्न की गांरटी की वजह से निवेशकों के लिए यह पसंदीदा निवेश का साधन रहा है. मगर महामारी की वजह से पिछले दो साल से एफडी (FD) पर बैंक कम ब्याज ऑफर कर रहे थे. अर्थव्यवस्था में सुधार और कर्ज की मांग बढ़ने की वजह से इस साल जनवरी से ही एफडी पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी का सिलसिला शुरू हो गया था.

इसके बाद इसी महीने रिजर्व बैंक ने महंगाई को नियंत्रित करने के लिए दो साल बाद रेपो रेट और सीआरआर (नकद आरक्षित अनुपात) में बढ़ोतरी का फैसला किया. सीआरआर में आधा फीसदी की बढ़ोतरी की गई है. इससे एक ही झटके में बैंकिंग सिस्टम से 87,000 करोड़ रुपये कम हो गए.

HDFC Hike FD Rates: एचडीएफसी बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट पर दे रहा अधिक ब्याज, 7 फीसदी से अधिक रिटर्न कमाने का मौका

HDFC Bank hikes FD interest rates

Highway Project: 13 नेशनल हाइवे के लिए 5 हजार करोड़ मंजूर, घंटों की दूरी मिनटों में तय होगी
एचडीएफसी बैंक 7 दिन से लेकर 10 साल तक के एफडी टेन्योर पर निवेश का मौका दे रहा है. वहीं, बैंक सामान्य नागरिकों को सबसे ज्यादा 6.50 फीसदी ब्याज दर 18 से 21 महीने के निवेश पर दे रहा है. यह ब्याज दर 21 महीने से 2 साल टेन्योर और 2 साल से 3 साल तक के टेन्योर पर भी बैंक दे रहा है. बैंक इसी टेन्योर पर वरिष्ठ नागरिकों को 7.00 फीसदी ब्याज दर दे रहा है.

बचत खाते की तरह निकाल सकते हैं इस FD से पैसे, फिर भी नहीं टूटेगा फिक्स्ड डिपॉजिट

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) की एक खास FD के बारे में जानना उन लोगों के लिए बेहद जरूरी है जो बैंक में अपना फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) करवाने जा रहे हैं या ऐसा प्लान बना रहा हैं। दरअसल, बहुत से लोग आधी-अधूरी जानकारियों के अभाव में केवल लाभ चक्कर में फंसकर किसी भी बैंक में कोई भी FD कराने फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट को तैयार हो जाते है, लेकिन बाद में इसका हर्जाना भी उन्हें चुकाना पड़ता है। जिंदगी में मुश्किलें बता कर नहीं आती। कई बार भविष्य में आने वाली इन्हीं मुसीबतों के समय लोगों के लिए FD में जमा किए पैसे काम आते हैं। लेकिन तब क्या हो जब आपकी FD मैच्योर ही न हुई हो और आपको पैसों की जरूरत हो. ऐसे में मजबूरन आपको FD तुड़वानी पड़ती है।

क्या है SBI MODS ?

SBI मल्‍टी ऑप्‍शन डिपॉजिट स्कीम (MODS) एक तरह का टर्म डिपॉजिट ही है। लेकिन इसकी खासियत यह है कि यह डिपॉजिटर के सेविंग्‍स या करंट अकाउंट से लिंक्ड होता है। FD में बाकी बचे पैसों पर आपको ब्याज हासिल होता रहेगा, यानि आपको पूरी की पूरी FD तुड़वाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट यानी FD को आज भी कई लोग निवेश/बचत का सरल और सुलभ माध्यम मानते हैं, लेकिन FD के साथ सबसे बड़ी मुश्किल यही होती है कि जरूरत पड़ने पर आपको पूरी की पूरी FD तुड़वानी पड़ती है, फिर चाहे जरूरत भर के कुछ ही पैसे क्यों न चाहिए हो। ऐसे में SBI की यही FD काम आती है।

कितना मिलेगा लाभ ?

SBI MODS पर भी उतना ही ब्याज मिलता है, जो SBI में एक रेगुलर FD पर है। विड्रॉल के बाद ब्‍याज, प्रारंभिक जमा के समय लागू FD रेट्स के आधार पर MOD में बचे अमाउंट पर मिलता रहता है। MODS के मामले में, आप अपनी आवश्यकतानुसार 1,000 के मल्टीप्लाइज में राशि निकाल सकते हैं। याद रहे कि लिंक्ड बचत बैंक/चालू खाते में निर्धारित एएमबी (औसत मासिक बैलेंस) बरकरार रखना होगा।

इस खाते में कम से कम 1 वर्ष और अधिक से अधिक 5 वर्ष के लिए डिपॉजिट कर सकते हैं। डिपॉजिट्स पूरी तरह लिक्विड हैं और चेक/ATM/इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से 1000 रुपए के मल्टीप्लाइज में कितनी भी बार पैसा निकाला जा सकता है। MODS के तहत न्यूनतम 10 हजार रुपए में खाता खोला जा सकता है। इस खाते में जमा पर ब्याज टर्म डिपॉजिट्स की तरह ही मिलता है। वरिष्ठ नागरिकों को रेगुलर रेट+0.50 प्रतिशत अतिरिक्त दर से ब्याज मिलेगा। स्कीम में डिपॉजिट पर प्रचलित दर से TDS लागू है। नॉमिनी बनाने की सुविधा से लेकर कर्ज लेने की सुविधा मौजूद है।

BoB vs SBI vs Bandhan Bank FD Rate: एफडी पर कहां मिलेगा 7.फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट 5% तक रिटर्न? चेक करें बैंकों के डिटेल

BoB vs SBI vs Bandhan Bank FD Rate: एफडी पर कहां मिलेगा 7.5% तक रिटर्न? चेक करें बैंकों के डिटेल

सुरक्षित निवेश के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) अकाउंट में पैसे रखना बेहतर विकल्प है.

Bank of Baroda vs SBI vs Bandhan Bank FD Interest Rate: सुरक्षित निवेश के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) अकाउंट में पैसे रखना बेहतर विकल्प है. मैच्योरिटी पूरी होने पर एफडी अच्छा रिटर्न देता है. मार्केट के उतार-चढ़ाव का एफडी पर कोई असर नहीं पड़ता है. मैच्योर होने से पहले एफडी सरेंडर करने का विकल्प भी होता है. कुछ एफडी ‘लॉक-इन’ पीरियड वाले होते हैं. इसके अलावा FD पर निवेशकों को 5 लाख तक की डिपॉजिट इंश्योरेंस गारंटी भी दी जाती है. यहां हम बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda), स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI), बंधन बैंक (Bandhan Bank) द्वारा 2 करोड़ रुपये तक की एफडी (Fixed Deposit) पर इस वक्त दिए जा रहे ब्याज (Interest) की जानकारी दे रहे हैं ताकि आप यह फैसला कर सकें कि कहां निवेश करना ज्यादा फायदेमंद होगा.

रेटिंग: 4.20
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 420
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *